• A
  • A
  • A
ऑक्सफोर्ड से मांगा 10 लाख पौंड का हर्जाना ! लेकिन... हार गया पूर्व छात्र

लंदन। ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के एक पूर्व छात्र ने विश्व के इस नामी संस्थान पर दस लाख पौंड हर्जाने का दावा किया। हालांकि, छात्र भारतीय विषय में कथित खराब पढ़ाई के लिए हर्जाने का दावा हार गया। माना जाता है कि छात्र भारतीय मूल का है।

हर्जाना मांगने वाले छात्र फैज सिद्दकी (साभार- ट्विटर अकाउंट द इंडिपेंडेंट)


दरअसल, फैज सिद्दकी नाम के छात्र ने अपनी पढ़ाई के 17 साल बाद नवंबर, 2017 में विश्वविद्यालय पर मुकदमा किया था। मुकदमें में दावा किया गया था कि भारतीय साम्राज्य संबंधी इतिहास पर विशेष पाठ्यक्रम में अच्छे से पढ़ाई नहीं हुई थी, जिसकी वजह से सन् 2000 में उसे केवल 2:1 अंक मिला।
इस समाचार को द इंडिपेंडेंट नाम के ऑनलाइन अंग्रेजी अखबार ने भी अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से शेयर किया है।खराब पढ़ाई का आरोपछात्र का आरोप था कि खराब पढ़ाई के कारण वकालत में अच्छे भविष्य की उसकी संभावना धूमिल हो गयी। इस सप्ताह यानि फरवरी, 2018 में मामले की सुनवाई के दौरान एक न्यायाधीश ने यह मामला खारिज कर दिया।
अदालत ने जताना हमदर्दीअदालत का मानना था कि हो सकता है 39 वर्षीय फैज अपने पाठ्यक्रम के दौरान गहराई से अध्ययन नहीं कर पाए हों। अदालत ने इसके लिए हमदर्दी भी प्रकट की। न्यायमूर्ति फोसकेट ने अपने आदेश में कहा कि उम्मीद है कि वह फिर से विषय पर ध्यान केंद्रित करेंगे और अपनी प्रतिभा का इस्तेमाल खुद का बेहतर भविष्य बनाने के लिए करेंगे।
नहीं हुआ हावर्ड में दाखिलाबताया जाता है कि ब्रासेनोस कॉलेज में आधुनिक इतिहास का अध्ययन करने वाले फैज सिद्दकी के वकील ने दलील दी थी कि द्वितीय श्रेणी की डिग्री से वकील के तौर पर उनके भविष्य के करियर को नुकसान पहुंचा। इसके अलावा याचिकाकर्ता की दलील थी कि प्रथम श्रेणी डिग्री नहीं मिल पाने से वे हार्वर्ड लॉ स्कूल में दाखिला नहीं ले पाए।
पढ़ें: इवांका ट्रंप को 24 साल की उम्र में किया डेट !
मानसिक स्वास्थ्य भी हुआ प्रभावितफैज सिद्दकी ने कहा कि खराब परिणाम के कारण उनका मानसिक स्वास्थ्य और करियर प्रभावित हुआ। न्यायाधीश ने माना कि याचिकाकर्ता को अवसाद से गुजरना पड़ा लेकिन उन्हें लगता है कि उनके डिग्री परिणाम के कारण ऐसा नहीं हुआ होगा।

CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  सहेली

  गैलरी

  टूरिज़्म

  MAJOR CITIES