• A
  • A
  • A
भूस्खलन में बहे रोहिंग्या शरणार्थियों के शिविर, 14 की मौत

ढाका। दक्षिणपूर्व बांग्लादेश में करीब दस लाख रोहिंग्या शरणार्थियों के शिविरों के पास मूसलाधार बारिश से हुए भूस्खलन में कम से कम 14 लोगों की मौत हो गई जबकि कई अन्य लापता हैं।

कॉन्सेप्ट इमेज।


भारी बारिश से हुए भूस्खलन में म्यामांर की सीमा पर काक्स बाजार और रंगमाटी जिलों में कई घर और आश्रय स्थल बह गये। भारी बारिश से आश्रय स्थलों को गंभीर नुकसान पहुंचा। अब तक, नौ हजार से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं। इस संख्या में बढ़ोत्तरी की आशंका है।


नहीं हुई है मृतकों की पहचान
रंगमाटी पर्वतीय जिले के विभिन्न क्षेत्रों में भूस्खलन में कम से कम 12 लोगों की मौत हो गई। जबकि काक्स बाजार में दो लोग मारे गये। रंगमाटी के सरकारी डाक्टर शाहिद तालुकदार ने कहा कि मृतकों की अब तक पहचान नहीं हो पाई है। पास के पर्वतों से मलबा बहकर आने से ज्यादातर पीड़ितों की मौत मलबे में दबकर हुई।

बाकी देश से संपर्क टूटा
अधिकारियों ने कहा कि रंगमाटी जिले में मृतकों की संख्या बढ़ सकती है। जिसका भूस्खलन से आए मलबे के सड़कों पर जमा होने से बाकी देश से संपर्क टूट गया है। राहत एवं बचाव दल को प्रभावितों के पास पहुंचने में मुश्किल हो रही है।

पढ़ें- अमेरिका समर्थित लड़ाकों की सीरिया में रासायनिक हमले की योजना: रूस

करीब सात लाख शरणार्थी
बता दें कि बीते दो दिन से जारी मॉनसूनी बारिश लगातार हो रही है। एक अनुमान के मुताबिक म्यांमार में सैन्य कार्रवाई के कारण करीब सात लाख रोहिंग्या मुस्लिम भागकर बांग्लादेश आ गये हैं।



CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  कारोबार

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  सहेली

  गैलरी

  टूरिज़्म

  ASSEMBLY ELECTIONS 2018

  MAJOR CITIES