• A
  • A
  • A
ONGC हेलीकॉप्टर दुर्घटना: चार शव बरामद, राष्ट्रपति ने जताया दु:ख

मुंबई। एक पवन हंस हेलीकॉप्टर मुंबई के जुहू हवाईअड्डे से उड़ान भरने के तुरंत बाद लापता हो गया। हेलीकॉप्टर में ओनएजीसी के अधिकारियों समेत पांच लोग सवार थे। भारतीय तटरक्षक दल ने चार शवों को बरामद कर लिया है।

मृतक बिंदुलाल बाबू और पंकज गर्ग (ONGC) की फाइल फोटो


डॉफिन हेलीकॉप्टर, VT PWA ने सुबह 10.20 बजे उड़ान भरी थी। उड़ान के मात्र 15 मिनट बाद ही मुंबई एटीसी और ऑयल एंड नैचुरल गैस कॉर्पोरेशन (ओएनजीसी) दोनों से इसका संपर्क टूट गया। उस समय इसके मुंबई तटरेखा से लगभग 55 किलोमीटर दूर, संभवत: ओएनजीसी के बॉम्बे हाई ऑयलफील्ड्स के रास्ते में होने का अनुमान लगाया गया था। दुर्घटनाग्रस्त हेलिकॉप्टर का मलबा और चार मृतकों के शव बरामद कर लिए गए हैं।



राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मृतकों के परिजनों के प्रति संवेदना जाहिर की है।
हालांकि, 5 जहाजों, दो हेलिकॉप्टर और दो ड्रोन की मदद खबर लिखे जाने तक से जारी है।
राहत और खोज कार्य में लापता हेलिकॉप्टर का मलबा सहित कुल चार शव बरामद कर लिए गए हैं।
भारतीय तटरक्षक दल ने दो शवों की पहचान के दावे के साथ ट्वीट किया है।

मामले की अद्यतन जानकारी में कुल चार मौत होने की सूचना मिली है। फिलहाल राहत और बचाव कार्य जारी है।

भारत सरकार के पेट्रोलियम मंत्री ने रक्षा मंत्रालय से मदद की अपील की है और ओएनजीसी के सीएमडी खुद मुंबई रवाना हो चुके हैं।
इसी बीच पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के ट्विटर संदेश पर रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने भी हर संभव मदद के लिए आश्वस्त किया है।

उक्त ट्वीट में लिखा गया है कि हेलिकॉप्टर में दो पायलट के अलावा कुल पांच लोग सवार थे। राहत और बचाव कार्य के दौरान हेलिकॉप्टर के मलबे समेत एक शव बरामद किया गया है।

पढ़ें:महाराष्ट्र : सड़क दुर्घटना में 5 पहलवानों समेत 6 की मौत

एक आधिकारिक प्रवक्ता ने कहा है कि भारतीय तटरक्षक बल ने तलाशी और बचाव अभियान के लिए क्षेत्र में अपने जहाज और विमान को भेज दिया है। लापता हेलीकॉप्टर की खोज के लिए अन्य ठिकानों के हेलीकॉप्टरों और विमानों को भी तैनात किया गया है।


CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  सहेली

  गैलरी

  टूरिज़्म

  اردو خبریں

  ଓଡିଆ ନ୍ୟୁଜ

  ગુજરાતી ન્યૂઝ

  MAJOR CITIES