• A
  • A
  • A
रिहा होने के बाद बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष के बेटे का 'इमोशनल अत्याचार'

चंडीगढ़। वर्णिका कुंडू छेड़छाड़ केस में मुख्य आरोपी हरियाणा बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष का बेटा विकास बराला पांच महीने बाद बेल पर रिहा हुआ। रिहा होते ही विकास बराला ने एक वीडियो जारी किया है। इस वीडियो में विकास ने अपने आप को निर्दोष बताया और कहा कि, वो खुद इस केस में विक्टिम है।

क्लिक कर देखें वीडियो।


हाई प्रोफाइल छेड़छाड़ कांड को हुए पांच महीने बीत चुके हैं। लेकिन मामला शांत नहीं हुआ है। इस केस में मुख्य आरोपी हरियाणा बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष का बेटा विकास बराला है। विकास बराला मामले में 5 महीने तक जेल की हवा काट चुका है, फिलहाल हाई कोर्ट से जमानत मिलने के बाद बेल पर रिहा हुआ है।


इस मामले में दो आरोपी हैं। विकास बराला को मुख्य आरोपी माना जा रहा है, तो उनके दोस्त आशीष को भी सामान अपराध के लिए गिरफ्तार किया गया है। विकास बराला हरियाणा के बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष के बेटे हैं, लिहाज़ा उनका नाम सुर्खियों में आना वाजिब है।

विकास बराला का मामला सामने आने के बाद हरियाणा में सियासी पारा भी गरम हो गया। चारो तरफ से विपक्षी पार्टियों की तरफ से आरोपों की बौछार होने लगी, तो बीजेपी ने भी विकास को पार्टी से बाहर होने की बात रखी। कहा गया कि, विकास बराला का बीजेपी से कोई ताल्लुक नहीं है। अगर विकास दोषी साबित हुआ तो, उसके खिलाफ कार्रवाई जरूर की जाएगी।

कहा जा सकता है कि, विकास बराला इस सियासी पचड़े की वजह से ही लाइम लाइट में बने हुए हैं। मामले में जेल जाने के बाद कई बार दोनों आरोपियों ने जिला कोर्ट में जमानत की याचिका लागाई, जिसे बार-बार खारिज कर दिया गया। वर्णिका कुंडू के वकील की दलील थी कि, आरोपी विकास बाहर आकर अपने राजनीतिक रसूख का इस्तेमाल करेगा और केस को कमजोर कर देगा। शायद यही वजह रही कि, विकास बराला की याचिका को चार बार रद्द कर दिया गया।

गुरुवार को हाईकोर्ट ने विकास को बेल दे दी। जिसके बाद शुक्रवार की देर शाम विकास जेल से रिहा हुए। विकास ने जेल से बाहर आने के बाद एक मिनट सत्तावन सेकेंड की एक वीडियो जारी की है। जिसमें उसने बहुत ही भावनात्मक रूप में कहा है कि, वो निर्दोष है, इस केस का असली विक्टिम वो खुद है।

वर्णिका कुंडू केस में मुख्य आरोपी विकास बराला ने यूट्यूब के जरीए दी सफाई।

विकास ने वीडियो में कहा है कि, ''मैं शब्दों में आप सभी को यह बयान नहीं कर सकता कि, इन पिछले पांच महीनों में मेरी मां, मेरी बहन, मेरे परिवार, मेरे अपनों के ऊपर किस तरह का टार्चर हुआ है, मेन्टल टार्चर से वह गुज़रे हैं , एक ट्रॉमा से वो गुज़रे हैं, एक असहनीय पीड़ा से वह गुज़रे हैं।''

विकास बराला ने खुद पर लगाए जा रहे सभी आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया। विकास ने कहा कि, ''मेरे ऊपर FIR या कोर्ट में छेड़छाड़ या मोलेस्टेशन के कोई आरोप नहीं हैं। यह सब झूठे एवं बेबुनियाद हैं, यह सब अफवाहें हैं। मैं आप सब से विनम्रता से यह अपील करना चाहता हूं कि, आप सब इस केस से जुड़े हुए ट्रू फैक्ट्स और एविडेंस पर ही विश्वास करें,उन्ही पर विश्वास करें, ना कि किसी झूठी और बेबुनियाद बात पर।''

मामले में डीजीपी तेजेंदर लूथरा का बयान
जब ये मामला पुलिस के सामने आया उस वक्त चंडीगढ़ पुलिस के डीजीपी तेजेंदर लूथरा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मीडिया को बताया था कि, दोनों आरोपियों पर अपहरण की कोशिश का आरोप है। धारा 365 और 511 के तहत आरोप लगाए जाएंगे। हमारे पास पर्याप्त सीसीटीवी फुटेज है।

चंडीगढ़ पुलिस के डीजीपी तेजेंदर लूथरा। (फाइल फोटो)

विकास हरियाणा बीजेपी के मुखिया सुभाष बराला के बेटे हैं। विकास बराला को सेक्टर-26 पुलिस थाने में सुबह 11 बजे हाजिर होने के लिए कहा गया है। विकास (23) और उसके दोस्त आशीष कुमार (27) पर आईपीसी की धारा 354 डी (पीछा करने), 341 (गलत तरीके से बंधक बनाना) और मोटर व्हीकल अधिनियम की धारा 185 (एल्कोहल लेकर गाड़ी चलाना) के तहत मामला दर्ज किया गया है।



CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  सहेली

  गैलरी

  टूरिज़्म

  MAJOR CITIES