• A
  • A
  • A
डोमाना सेंट्री पोस्ट पर अंधाधुंध फायरिंग, अलर्ट गार्ड की सूझ-बूझ से टला हादसा

नई दिल्ली/जम्मू। एक बार फिर आतंकवादियों द्वारा जम्मू में आतंक मचाने की साजिश रची गई, जिसे सेना ने छावनी के प्रवेश द्वार पर ही टाल दिया। मंगलवार को यह कोशिश की गई लेकिन अलर्ट गार्ड ने अपनी सूझ-बूझ से कोई बड़ी घटना होने से पहले इसे टाल दिया।

फाइल फोटो।


पुलिस ने बताया कि, दो मोटरसाइकिल पर डोमाना के आर्मी कैंप के एंट्री गेट पर आतंकी पहुंचे। समय 4.30 बजे का था, उस दौरान उन्होंने अचानक से सेंट्री पोस्ट पर फायरिंग शुरू कर दी। इस हमले की जवाबी कार्रवाई में जैसे ही सैनिकों ने एक्शन लिया आतंकवादी वहां से भागने को मजबूर हो गये।


पुलिस का कहना है कि उन्होंने आतंकवादियों को खोज निकालने के लिए एक सर्च ऑपरेशन जारी कर दिया है। सूत्रों का कहना है कि इसकी कड़ी 10 फरवरी को हुए सुंजवान आर्मी कैंप पर हमले से जुड़ी हुई है। इन आतंकी हमले में भारी हथियारों के साथ जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादियों ने पहले हमला किया उसके बाद स्थानीय इलाके में छिप गये।

पढ़ें
- 'Army युद्ध के लिए 6 महीने में होगी तैयार, संघ 3 दिन में Ready' भागवत के बयान पर 'महाभारत'

उसके बाद पैराकमांडो की मदद से रेस्क्यू ऑपरेशन किया गया। इस हमले में 6 जवानों की मौत हो गई है और एक नागरिक की भी हत्या कर दी गई। तीन दिनों में जम्मू में यह दूसरा हमला है। जिससे स्थानीय लोगों में दहशत का माहौल है।

CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  सहेली

  गैलरी

  टूरिज़्म

  اردو خبریں

  ଓଡିଆ ନ୍ୟୁଜ

  ગુજરાતી ન્યૂઝ

  MAJOR CITIES