• A
  • A
  • A
कर्नाटकः CONG-JDS के विधायकों ने सौंपा समर्थन पत्र

बेंगलुरु। कर्नाटक में राजनीतिक घटनाक्रम पल-पल बदल रहा है। कांग्रेस और जेडीएस के विधायक राजभवन पहुंच चुके हैं। उन्होंने सरकार बनाने का दावा पेश किया है। विधायकों के हस्ताक्षर भी सौपे गए हैं। सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस के तीन विधायक नहीं पहुंचे हैं। जेडीएस के सभी विधायक उपस्थित बताए जा रहे हैं। कांग्रेस ने कहा है कि सरकार बनाने का न्योता नहीं मिला, तो सभी विधायक धरना पर बैठेंगे।

राजभवन पहुंचे कांग्रेस-जेडीएस विधायक।


कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि अभी हमें गवर्नर पर भरोसा है, वह जेडीएस-कांग्रेस गठबंधन को सरकार बनाने के लिए जरूर आमंत्रित करेंगे। जेडीएस-कांग्रेस के विधायकों ने सभी हस्ताक्षर जमा किए हैं।



आपको बता दें कि भारतीय जनता पार्टी के पास 104 विधायक हैं। कांग्रेस के पास 78 और जेडीएस के पास 38 विधायक हैं। भाजपा नेता येदियुरप्पा ने दावा किया है कि बुधवार को वह कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री के रूप में पद की शपथ लेंगे। येदियुरप्पा और प्रकाश जावड़ेकर ने राज्यपाल से मुलाकात की और सरकार बनाने का दावा पेश किया।

जावड़ेकर ने कहा है कि कर्नाटक की जनता चाहती है कि प्रदेश में भाजपा की सरकार बने और हम ऐसा करेंगे। जावड़ेकर ने कहा कि ऐसे में किसी को भी तनाव जैसी स्थिति नहीं पैदा करनी चाहिए।
एक निर्दलीय विधायक को भाजपा विधायकों के साथ देखा गया।
जेडीएस की बैठक
जेडीएस नेता एचडी कुमारस्वामी ने कहा कि भाजपा की अश्वमेध यात्रा कर्नाटक में रुक गई। उन्होंने कहा कि यदि भाजपा हमारे एक विधायक को तोड़ती है, तो हम उनके दो विधायकों को तोड़ लेंगे। स्वामी ने दावा किया कि विधायकों को 100 करोड़ और मंत्री पद का ऑफर दिया जा रहा है।

बेंगलुरु में जेडीएस के विधायकों की बैठक हुई। इसमें दो विधायकों के गायब होने की खबर आई थी। इसके बावजूद जेडीएस का दावा है कि सरकार उसकी बनेगी।
जेडीएस प्रमुख एचडी कुमारस्वामी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि मोदी पीएम हैं, फिर भी अपनी पार्टी को बहुमत नहीं दिला सके। स्वामी ने कांग्रेस पार्टी का शुक्रिया किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस हमे समर्थन दे रही है।

उन्होंने साफ कर दिया है कि भाजपा ने खुद जो बाकी राज्यों में किया है उसके बाद उसे कोई हक नहीं हमें नैतिकता का पाठ पढ़ाए।

ये भी पढ़ें
कर्नाटक विधानसभा चुनाव परिणामः किस सीट से कौन जीता, एक नजर
तीसरे नंबर पर रहने के बावजूद 'किंग' बनेंगे कुमारस्वामी
गवर्नर के पास कांग्रेस-जेडीएस को आमंत्रित करने के अलावा कोई विकल्प नहींः कांग्रेस

कांग्रेस विधायक दल की बैठक

बेंगलुरु में कांग्रेस विधायक दल की बैठक हुई। जिसमें 78 में से 66 विधायक ही बैठक में पहुंचे। इस पर कुछ भाजपा नेताओं का दावा है कि ये विधायक उनके संपर्क में हैं। वहीं कांग्रेस का कहना है कि ये विधायक बैठक में नहीं पहुंच सके। कांग्रेस पार्टी ने ऐसी खबरों का खंडन किया है। उनका कहना है कि विधायक रास्ते में थे, इसलिए नहीं आ सके।
कांग्रेस पार्टी का कहना है कि भाजपा के छह विधायक उनके संपर्क में हैं।

CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  सहेली

  गैलरी

  टूरिज़्म

  MAJOR CITIES