• A
  • A
  • A
अब बेफिक्र होकर इस काम को करें पुरूष, नहीं होगी मर्दानगी खत्म

साइकिल चालन परिवहन, व्यायाम और अवकाश का एक लोकप्रिय साधन है। यह पुरुषों के यौन सेहत और मूत्र प्रणाली के लिए हानिकारक नहीं हो सकता है। एक शोध से यह जानकारी मिली है। पहले यह माना जाता था कि साइकिल चलाने से पुरुषों का यौन स्वास्थ्य प्रभावित होता है, लेकिन अध्ययन में कहा गया है कि साइकिल चलाने के लाभ 'जोखिम की तुलना में काफी अधिक हैं' और इससे हृदय को फायदा होता है।


शोधकर्ताओं का कहना है, "तैराकों और धावकों की तुलना में साइकिल चलानेवालों में बेहतर स्तंभन क्षमता देखी गई।" शोधकर्ताओं का यह भी कहना है कि न तो साइकिल और न ही सड़क की हालत से साइकिल चालक पर कोई नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।


शोधकर्ताओं ने कहा कि साइकिल चलाने के दौरान 20 फीसदी से अधिक वक्त तक खड़े रहने से गुप्तांगों को अकड़ने से बचाता है, लेकिन साइकिल के हैंडल की ऊंचाई को सीट की ऊंचाई से कम कर देने से गुप्तांगों में अकड़न की समस्या हो सकती है तथा दबाव वाली जगह पर शरीर में घाव भी हो सकते हैं।

अमेरिका के सैन फ्रांसिस्को स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया के प्रोफेसर बेंजामिन ब्रेयर ने बताया, "हमारा मानना है कि ये नतीजे साइकिल चालकों के लिए काफी उत्साहजनक होंगे। साइकिल चलाने से हृदय को काफी लाभ होता है और जोड़ों पर कम प्रभाव पड़ता है।

हमारा मानना है कि इससे हमारे शरीर को मिलने वाला स्वास्थ्य लाभ काफी अधिक है तथा इससे वजन बढ़ने जैसी समस्या से बचाव होता है।" यह शोध जर्नल ऑफ यूरोलॉजी में प्रकाशित किया गया है।

CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  सहेली

  गैलरी

  टूरिज़्म

  اردو خبریں

  ଓଡିଆ ନ୍ୟୁଜ

  ગુજરાતી ન્યૂઝ

  MAJOR CITIES