• A
  • A
  • A
IND vs SA: भारत की ऐतिहासिक जीत, 25 साल बाद जीती श्रृंखला

पोर्ट एलिजाबेथ। 25 साल बाद भारत ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ उसकी सरज़मीं पर पहली द्विपक्षीय श्रृंखला जीतने का कारनामा किया है। अफ्रीकी बल्लेबाज एक बार फिर फिरकी के सामने बेबस दिखे और केवल 42.2 ओवर में 201 रन बनाकर ऑल आउट हो गए। भारत सीरीज का पांचवां मैच 73 रनों से जीता। इसके साथ ही टीम इंडिया ने श्रृंखला में 4-1 की बढ़त बना ली है।

जीत के बाद टीम इंडिया (सौ. BCCI ट्विटर)


दरअसल, भारत के दिए 275 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी द. अफ्रीकी टीम ने सधी हुई शुरुआत की। हालांकि, एक बार फिर द. अफ्रीका के बल्लेबाजों के सामने भारतीय स्पिनर्स अबूझ पहले बन कर आए। कुलदीप यादव और यजुवेंद्र चहल की जोड़ी ने छह विकेट झटकते हुए भारत की ऐतिहासिक जीत में अहम भूमिका निभाई।


भारत ने इस जीत के साथ ही कई कीर्तिमान भी बनाए। एक नजर:
  • कम से कम 40 ODI में बतौर कप्तान कुल जीत के मामले में विराट कोहली दूसरे स्थान पर पहुंचे। यह विराट की 32वीं जीत थी। विराट से आगे केवल पूर्व ऑस्ट्रलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग हैं। पोंटिंग ने 33 मैचों में जीत हासिल की।
टीम इंडिया ने वर्ष 1992 से चले आ रहे हार के सिलसिले को तोड़ते हुए अफ्रीकी धरती पर पहली श्रृंखला जीती। इस सीरीज में अभी एक मैच खेला जाना बाकी है और भारत ने 4-1 की बढ़त बना ली है। एक नजर पिछली श्रृंखलाओं पर:
  • वर्ष 1992 भारत 2-5 से पराजित।
  • वर्ष 2006 भारत 0-4 से पिटा।
  • वर्ष 2011 भारत 2-3 से हारा।
  • वर्ष 2013 भारत 0-2 से हारा।
लगातार सबसे ज्यादा द्विपक्षीयश्रृंखला जीतने के मामले में भारत दूसरे स्थान पर पहुंच गया है। यह भारत की नौवीं सीरीज जीत है। टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया (8), पाकिस्तान (7)और द. अफ्रीका (7)को पीछे छोड़ा। वेस्ट इंडीज ने लगातार 14 द्विपक्षीय श्रृंखलाएं अपने नाम की है।

बुमराह ने दिया पहला झटका

लक्ष्य का पीछा करते हुए सलामी बल्लेबाज हाशिम अमला और एडिन मार्कराम ने पहले विकेट के लिए 52 रनों की साझेदारी की। हालांकि, अफ्रीकी टीम को जसप्रीत बुमराह की गेंद पर एडिन मार्कराम के रूप में पहला झटका लगा। मार्कराम 32 रन बनाकर विराट कोहली के हाथों लपके गए। उन्होंने अपनी पारी में एक छक्का और चार चौके लगाए।

सस्ते में निपटे ड्युमिनी
इसके बाद बल्लेबाजी करने आए जेपी ड्युमिनी कुछ खास नहीं कर सके और केवल एक रन बनाकर चलते बने। ड्युमिनी हार्दिक पांड्या की गेंद पर रोहित शर्मा को कैच दे बैठे। इस समय टीम का स्कोर 55 रन था।

दूसरे मैच में भी नाकाम रहे डिविलियर्स
श्रृंखला में अपना दूसरा मैच खेल रहे एबी डिविलियर्स भी कुछ खास नहीं कर सके और केवल 6 रन बनाकर विकेटकीपर एमएस धोनी को कैच दे बैठे। उन्हें भी पांड्या ने ही अपना शिकार बनाया।

फिरकी के जाल में फंसी अफ्रीकी बल्लेबाज
इसके बाद अफ्रीकी टीम चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव और लेग स्पिनर यजुवेंद्र चहल की फिरकी में फंसती चली गई। सबसे पहले चहल ने खतरनाक दिख रहे डेविड मिलर को क्लीन बोल्ड किया। मिलर ने एक छक्के और दो चौके की मदद से 36 रनों का योगदान दिया।

अमला ने बनाए सबसे ज्यादा रन
इसके बाद हाशिम अमला और फेहुल्क्वायो के बीच आपसी तालमेल की कमी दिखी और फुर्ती दिखाते हुए हार्दिक पांड्या ने अमला को रन आउट कर पवेलियन की राह दिखाई। अमला ने पांच चौके की मदद से 71 रनों का योगदान दिया।

कुलदीप यादव ने दिया छठा झटका
इसके बाद पिछले मैच के हीरो रहे फेहुल्क्वायो को कुलदीप यादव ने शून्य के स्कोर पर क्लीन बोल्ड कर अफ्रीकी टीम को छठा झटका दिया। इस समय 35.3 ओवर में टीम का स्कोर 168 रन था। ऐसे में टीम की हार सुनिश्चित लग रही थी।

एक ही ओवर में तीन विकेट
सातवें विकेट के रूप में कगिसो रबाडा आउट हुए। रबाडा (3) को कुलदीप यादव ने चहल के हाथों कैच आउट कराया। कुलदीप ने इसी ओवर में अफ्रीकी टीम को दो और झटके दिए। कुलदीप ने हेनरिक क्लासेन को छकाते हुए विकेटकीपर एमएस धोनी के हाथों स्टंप आउट कराया। क्लासेन ने 39 रन बनाए। इसके बाद कुलदीप ने पुछल्ले बल्लेबाज तबरेज शम्सी (0) को पहली ही गेंद पर पांड्या के हाथों कैच कराया।

चहल ने ठोंकी आखिरी कील
द. अफ्रीका के ताबूत में आखिरी कील यजुवेंद्र चहल ने ठोंकी। उन्होंने मोर्ने मोर्कल को पगबाधा आउट कर भारत को ऐतिहासिक जीत दिलाई। भारत की ओर से कुलदीप ने सबसे ज्यादा चार विकेट लिए। हार्दिक पांड्या और यजुवेंद्र चहल ने दो-दो विकेट, जबकि जसप्रीत बुमराह ने एक विकेट हासिल किया।

रोहित का शानदार शतक
इससे पहले भारतीय टीम ने रोहित शर्मा की शानदार शतकीय पारी की बदौलत 50 ओवर में 7 विकेट के नुकसान पर 274 रनों का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया। रोहित ने 4 छक्के और 11 चौके की मदद से 115 रन बनाए। भारत की ओर से कप्तान विराट कोहली ने 36, शिखर धवन ने 34 रनों का योगदान दिया।

लुंगी नगिदी ने लिए 4 विकेट लिए
इसके अलावा श्रेयस अय्यर ने 30, और एमएस धोनी ने 13 रनों का योगदान दिया। अजिंक्य रहाणे 8 रन बनाकर रन आउट आउट हुए। भुवनेश्वर कुमार 19 और कुलदीप यादव 2 रन बनाकर नाबाद रहे। अफ्रीकी टीम के लिए लुंगी नगिदी ने सबसे ज्यादा 4 विकेट लिए। कगिसो रबाडा को एक सफलता हासिल हुई।

पिछले मैच में जीती थी द. अफ्रीका
इससे पहले छह मैचों की वनडे सीरीज में भारतीय टीम 3-1 से आगे थी। मेजबान टीम ने बारिश से प्रभावित पिछले ODI में डकवर्थ लुइस नियम के आधार पर पांच विकेट से जीत हासिल कर वापसी की थी।

दोनों टीम:

भारत :
विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे, श्रेयस अय्यर, महेंद्र सिंह धोनी (विकेटकीपर), हार्दिक पंड्या, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह।

दक्षिण अफ्रीका :
एडेन मार्कराम (कप्तान), हाशिम अमला, जेपी ड्युमिनी, डेविड मिलर, मोर्ने मोर्कल, लुंगीसानी नगिदी, एंडिले फेलुकवायो, कगिसो रबाडा, तबरेज शम्सी, हेनरिक क्लासन (विकेटकीपर), एबी डिविलियर्स।


CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  कारोबार

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  सहेली

  गैलरी

  टूरिज़्म

  ASSEMBLY ELECTIONS 2018

  MAJOR CITIES