• A
  • A
  • A
घर में 'मेहमान' बन बैठे थे दर्जनों नाग-नागिन, बेटी की मौत के बाद चला पता

शेखपुरा। अरियरी प्रखंड अंतर्गत जखौर गांव में उस समय अफरा-तफरी की स्थिति उत्पन्न हो गई जब एक किसान के झोपड़ीनुमा घर से दर्जनों की संख्या में नाग-नागिन निकला। इससे पहले इसी घर में किसान की डेढ़ वर्षीय पुत्री को एक सांप ने डस लिया जिसके बाद उसकी मौत हो गई।

Loading the player...
घर से मिले सांप।


इस घटना के पश्चात पीड़ित किसान अपने घर में मौजूद सांप को पकड़ने के लिए नट बुलवाया परंतु उस किसान अथवा ग्रामीणों को यह अंदाजा भी नहीं था कि उसके घर से दर्जनों की संख्या में नाग-नागिनों का झुंड निकल जाएगा। नाग नागिन के झुंड निकलने की खबर फैलते ही वहां आसपास के ग्रामीण भी बड़ी तादाद में पहुंचे।


इसे भी पढ़ें : गांजा के साथ अंतर्राष्ट्रीय तस्कर को STF ने किया गिरफ्तार, त्रिपुरा से ले जा रहा था पंजाब

बहरहाल, इससे पहले गांव के कृषक मुकेश कुमार की डेढ़ वर्षीय पुत्री प्रतिमा कुमारी को सांप काटने के कारण घटनास्थल पर ही मौत हो गई। जखौर गांव के पासवान टोला में हुई इस घटना के वाद टोले के लोग अपने घरों से बाहर निकल गये। इस घटना के बाद ग्रामीणों ने सपेरा बुलवाकर लगभग दो दर्जन से अधिक सांपों को पकड़वा दिया।

इसे भी पढ़ें : बारिश की वजह से पटना में आठवीं तक के स्कूल मंगलवार को रहेंगे बंद

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि पीड़ित मुकेश कुमार जब सोमवार की दोपहर काम करने गए थे। इसी बीच घर में रखें ईंट से दो विशाल नाग-नागिन निकला। नाग-नागिन को देख ग्रामीणों के बीच अफरा तफरी की स्थिति मच गई। इसी दौरान ग्रामीणों ने सपेरा बुलवाया और सांपों को पकड़ने का सिलसिला शुरू हुआ । इस दौरान घर में रखे ईंटों के ढेर में जब खोजबीन की गई तब वहां सांपों का झुंड दिखाई पड़ा। बताया जाता है कि इस दौरान करीब आधा दर्जन बड़े तथा एक दर्जन छोटे नाग-नागिन को पकड़ा गया जो काफी जहरीले बताए जाते हैं। गांव के इस घटना को लेकर ज्यादातर महिलाएं इसे देवी प्रकोप मान रही है जबकि लोग सांपों का इतना बड़ा झुण्ड देखने के बाद परेशान हैं।


CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  सहेली

  गैलरी

  धर्मक्षेत्र

  टूरिज़्म

  اردو خبریں

  ଓଡିଆ ନ୍ୟୁଜ

  MAJOR CITIES