• A
  • A
  • A
22000 हजार में नापें पूरा राजस्थान

राजस्थान, जहां भारत की विरासत राज करती है। महलों से सजा यह प्रदेश हमारे प्राचीन भारत की अनूठी गाथा कहता है। बात भारत दर्शन की की जाए तो राजस्थान के बिना यह दर्शन पूरा नहीं हो सकता है। अगर आपके भी मन में राजस्थान घूमने की चाह जग आई है तो क्यों न इस पैकेज पर नजर डाली जाए।


पैकेज- 8 रात / 9 दिनों के लिए
जगहें- जयपुर – बीकानेर – जैसलमेर – जोधपुर – माउंट आबू
कीमत- 21,999 रुपए


दिन 1: जयपुर आने के बाद होटल के लिए प्रस्थान। इस दोपहर शहर के सिटी पैलेस और पैलेस म्यूजियम का दौरा करेंगे। 17वीं सदी में निर्मित जंतर मंतर और हवा महल देखें। रात भर होटल में ठहरें।

दिन 2: आज सुबह आप शहर के बाहर के आमेर किले का दौरा करेंगे। यहाँ आप काँच की नक्काशियो से ढके हुए भव्य महलों को देखेंगे। आमेर में हाथी की सवारी का आनंद लें। शाम को खरीदारी करें। रात भर होटल में ठहरें।

दिन 3: जयपुर-बीकानेर - आज सुबह आप भव्य दीवारों शहर बीकानेर (321 कि.मी. की दूरी पर 7-8 घंटे) के लिए ड्राइव करेंगे, आज आप राजस्थान में सभी प्रमुख किलों के विपरीत, असामान्य जूनागढ़ किले का दौरा करेंगे, जो पहाड की चोटी पर है, यह रेगिस्तान मैदानों पर ही बनाया गया था, और राष्ट्रीय ऊंट प्रजनन फार्म व रेगिस्तान में शानदार सूर्यास्त देखें। रात भर होटल में ठहरें।

दिन 4: बीकानेर–जैसलमेर - इस सुबह आप देशनोक और करनी माता मंदिर का दौरा करेंगे। बाद में आप जैसलमेर के रेगिस्तान शहर (332 कि.मी. की दूरी पर 7-8 घंटे) के लिए ड्राइव करेंगे। शाम को आराम करें। रात भर होटल में ठहरें।

दिन 5: जैसलमेर -आज जैसलमेर के शानदार किले की यात्रा. जैसलमेर आने के बाद यहाँ चारों ओर फैले अनगिनत हवेलियों को देखे जो शहर के असली शोपीस के रूप में प्रतिष्ठित हैं। देर शाम रेत टिब्बा की यात्रा करने के बाद शानदार सूर्यास्त देखें। रात भर होटल में ठहरें।

दिन 6: जैसलमेर-जोधपुर - आज सुबह आप की ब्लू सिटी जोधपुर (285 कि.मी. की दूरी पर 6-7 घंटे) ले जाया जायेगा। इस दोपहर आप भव्य मेहरानगढ़ किले और जसवंत ठाडा का दौरा करेंगे। रात भर होटल में ठहरें।

दिन 7: जोधपुर-माउंट आबू - नाश्ते के बाद माउंट आबू सैर करने के लिए आगे बढें। आने के बाद होटल मै चेक इन करें। ख़ाली समय आराम करें। रात भर होटल में ठहरें।

दिन 8: माउंट आबू – नाश्ते के बाद माउंट आबू के पर्यटन स्थलों का भ्रमण, दिलवाड़ा मंदिर जो पाँच जैन मंदिर मिलकर बना हैं। जटिल सजावटी पत्थर में सजावट की कला के नक्काशिया का चरमोत्कर्ष प्रतिनिधित्व है जो 11वीं सदी की शुरुआत में बनाये गये थे।

दिन 9: माउंट आबू – नाश्ते के बाद जाने के लिये रेलवे स्टेशन के लिए प्रस्थान।

ज्यादा जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  सहेली

  गैलरी

  धर्मक्षेत्र

  टूरिज़्म

  اردو خبریں

  ଓଡିଆ ନ୍ୟୁଜ

  MAJOR CITIES