• A
  • A
  • A
मंत्री न बनाकर कमलनाथ ने महागठबंधन की गांठ कर दी ढीली, गैर-कांग्रेसी गठबंधन की आहट तेज

भोपाल। मध्यप्रदेश में सत्ता बदल चुकी है, निजाम बदल चुका है. लेकिन, कांग्रेस में कलह कम होने का नाम नहीं ले रही है, जबकि इसी समस्या से निपटने के लिए कांग्रेस कमलनाथ के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद भी एक हफ्ते से अधिक समय तक मंत्रिमंडल पर मंथन करती रही, इसके बावजूद कुछ लोगों की नाराजगी खुलकर सामने आई है.

डिजाइन फोटो.


दरअसल, शपथ समारोह में पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन सिंह के बेटे अजय सिंह दूर-दूर तक नजर नहीं आये. इसके अलावा कांग्रेस के टिकट पर विधायक बने जयस प्रमुख हीरालाल अलावा भी मंत्री नहीं बनाये जाने से बेहद नाराज हैं. उन्होंने तो कार्यक्रम में जाने से इसीलिए मना कर दिया कि जब मंत्री नहीं बनाये तो क्यों जायें. हालांकि, कमलनाथ ने कहा था कि पहली बार विधायक बनने वालों को मंत्री नहीं बनाएंगे, लेकिन कांग्रेस को बिना शर्त समर्थन देने वाली सपा-बसपा को सरकार में हिस्सेदारी न देकर कमलनाथ ने एक तरह से महागठबंधन की संभावना पर पानी फेर दिया और अब तो सपा-बसपा कम ने गैर कांग्रेसी महागठबंधन बनाने का एलान कर दिया है.

पढ़ेंः28 विधायकों के लिए सेंटा क्लॉज बनकर आये कमलनाथ, गिफ्ट में दिये मंत्री पद
वहीं, अलावा कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मिलने के लिए समय मांग रहे हैं. अब अलावा की नाराजगी दूर करना भी कांग्रेस के लिए चुनौती है क्योंकि मंत्रिमंडल के गठन से पहले ही अलावा ने बागी तेवर दिखाते हुए कहा था कि कांग्रेस में शामिल होने से पहले प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा था कि यदि सरकार बनती है तो उनको मंत्री बनाएंगे, जिससे पार्टी अब मुकर गयी है. इस आरोप से कांग्रेस नहीं निपटती तो इसका असर महागठंधन पर पड़ सकता है.

पढ़ेंःजयस को मिला दिग्विजय सिंह का साथ, फिर भी हीरालाल अलावा के मंत्री बनने के मंसूबे पर फिरा पानी
गौरतलब है कि मंत्रियों के चयन के दौरान भोपाल से दिल्ली तक हलचल मची रही, अंततः कांग्रेस आलाकमान की सहमति पर 28 विधायकों को क्रिसमस पर मंत्री पद गिफ्ट करना तय हुआ और राजभवन में आयोजित शपथ समारोह में 28 मंत्रियों को राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने शपथ दिलाई. हालांकि, मंत्रिमंडल के जरिये क्षेत्रीय-जातिगत सहित हर समीकरण को ध्यान में रखा गया है, बावजूद इसके नाराजगी कम नहीं हुई.


CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  कारोबार

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  गैलरी

  टूरिज़्म

  MAJOR CITIES