• A
  • A
  • A
कांग्रेस ही नहीं, जनता के सपने में आते हैं CM शिवराज: ज्योतिरादित्य

भोपाल। कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रदेशवासियों को सपने में सीएम शिवराज दिखाई देते हैं। ज्योतिरादित्य ने भोपाल में महिला अपराध, बेरोजगारी और किसानों के मुद्दों को लेकर सरकार पर निशाना साधा।

वीडियो।


ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपने भोपाल दौरे के दौरान बीजेपी के उस बयान पर पलटवार किया है जिसमें बीजेपी ने कहा था कि, कांग्रेस नेताओं को सपने में भी शिवराज ही दिखाई देते हैं। बीजेपी के इस बयान के जवाब में सिंधिया ने कहा कि, कांग्रेस ही क्या जनता को भी शिवराज सिंह उसी तरह सपने में दिखाई देते हैं जिस तरह नोटबंदी-जीएसटी के बाद पूरे देश के लोगों को पीएम मोदी सपने में दिखते हैं।


पढ़ें- तिल और गुड़ बांटकर अपनी खुशियों में सभी को शामिल करना चाहिए: CM

उन्होंने कहा कि, प्रदेश में बढ़ते महिला अपराध, बेरोजगारी की समस्या, किसान का सीना छलनी होने के बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री भी जनता के सपने में आने लगे हैं। जनता सब समझ चुकी है और आगामी चुनाव में भाजपा को सबक सिखाने का मन बना चुकी है।

कांग्रेस मिलकर लड़ेगी विधानसभा चुनाव
कांग्रेस में बिखराव के सवाल पर सिंधिया बोले कि पार्टी न सिर्फ उपचुनाव बल्कि आगामी विधानसभा चुनाव भी साथ मिलकर लड़ेगी। वहीं प्रदेश में मुख्यमंत्री के चेहरे की बात पर उन्होंने कहा कि हाईकमान जो भी निर्णय लेगा पार्टी के कार्यकर्ता उसका सम्मान करते हुए एक साथ कांग्रेस की जीत के लिए काम करेंगे।

पढ़ें- MP में जारी रहेगा फिल्म 'पद्मावत' पर बैन, पढ़िए क्या कहा CM शिवराज ने

प्रदेश में कांग्रेस संगठन की एकजुटता पर बात करते हुए ज्योतिरादित्य ने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस को मजबूत बनाने के लिए संयुक्त रूप से चर्चा का दौर जारी है जिसके लिए एक बैठक हो चुकी है, जबकि एक अन्य बैठक 18 जनवरी को होने वाली है जिसमें आगे की रणनीति पर विचार होगा। उन्होंने कहा कि हमारा मकसद केवल कांग्रेस को सत्ता में लाना भर नहीं है, बल्कि मध्यप्रदेश के भविष्य को सुरक्षित रखना हमारा मुख्य उद्देश्य है।

बीजेपी की बयानबाजी पर ली चुटकी
बीजेपी नेताओं द्वारा ज्योतिरादित्य सिंधिया पर की जा रही बयानबाजी के सवाल पर ज्योतिरादित्य सीएम शिवराज पर चुटकी लेने से नहीं चूके। उन्होंने कहा कि वे किसी भी महान नेता पर कोई टिप्पणी नहीं करना चाहते। जो बुजुर्ग हैं वे आदर और सम्मान के पात्र हैं।

CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  कारोबार

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  सहेली

  गैलरी

  टूरिज़्म

  ASSEMBLY ELECTIONS 2018

  MAJOR CITIES