• A
  • A
  • A
शादी के कार्ड पर छपवाया कुछ ऐसा कि बन गया चर्चा का विषय

सागर। मध्य प्रदेश के सागर जिले का एक परिवार भाजपा सरकार से इतना खफा है कि उसके विरोध में अपनी बेटी की शादी का कार्ड छपवाया तो उसमें 'हमारी भूल-कमल का फूल' की पंचलाइन लिखवाकर अनोखा विरोध जताया है। हालांकि इससे पहले भी गुजरात के व्यापारियों ने इस पंचलाइन प्रयोग कर भाजपा का विरोध किया था।

वीडियो।


दरअसल, जिले से देवरी तहसील के राजेन्द्र बड़कुल की बेटी रागिनी की शादी आगामी 6 फरवरी को विदिशा जिला निवासी रोहित के साथ होनी है। राजेंद्र बड़कुल ने जो शादी का कार्ड छपवाया है जिसमे लिखवाया है 'हमारी भूल-कमल का फूल।'


पढ़ें-कांग्रेस ही नहीं, जनता के सपने में आते हैं CM शिवराज: ज्योतिरादित्य

भाजपा से खासी नाराजगी
हालांकि कि यह कोई नया नही हैं इससे पहले भी इस पंचलाइन का प्रयोग गुजरात चुनाव में कई जगह देखा गया था परंतु मध्य प्रदेश का यह पहला मामला है, जहां किसी व्यक्ति ने अपनी बेटी की शादी के कार्ड पर छपवाया है। इसके पीछे की वजह अनुराग के परिजनों ने बताई कि संविदा एमपीडब्ल्यू अनुराग जैन की 2010 में स्वास्थ्य विभाग में नौकरी लगी थी लेकिन उन्हें क्या मामलू की 2017 उन जैसे 473 और एमपीडब्ल्यू कर्मचारियों पर कहर बनकर टूटेगा।

पढ़ें-गुजरात के बाद एमपी में भी 'कमल का फूल, हमारी भूल'

'हमारी भूल-कमल का फूल'
मध्यप्रदेश सरकार ने इन सभी को नौकरी से पृथक कर दिया। इस बात से नाराज होकर इन लोगों ने कई बार आंदोलन किये। पर बात नही बनी और सरकार ने इनकी एक नहीं सुनी। जिसके बाद सरकार को चेताने अनुराग ने एक नया तरीका अपनाया और उन्होंने अपनी बहन के शादी के कार्ड पर 'हमारी भूल-कमल का फूल' लिखवा दिया।

'कभी नहीं देंगे भाजपा को वोट'
वहीं लड़की की मां अनीता बड़कुल का कहना है कि उनका बेटा अनुराग जैन संविदा के माध्यम से एमपीडब्ल्यू के पद हेल्थ सेक्टर राहतगढ़ में सात साल से काम करता रहा लेकिन उसे हटा दिया इसीलिए हमने भाजपा का विरोध किया और अपनी दिल की भड़ास निकाली है। अब हम भारतीय जनता पार्टी को कभी भी वोट नही देगें।

पढ़ें-धरना प्रदर्शन के बाद गौ-सेवक ने इन मांगों को लेकर सौंपा ज्ञापन

कांग्रेस ने ली चुटकी
वहीं इस मामले में कांग्रेस ने चुटकी लेते हुए कहा कि यह शर्मसार करने वाली बात है, अब प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जो अपने आप को बेटियों का मामा कहते हैं उन्हें इस मामले में आगे आकर इस परिवार की मदद करनी चाहिए।



CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  सहेली

  गैलरी

  टूरिज़्म

  MAJOR CITIES