• A
  • A
  • A
सहायक यंत्री के घर मिली करोड़ों की संपत्ति, 6 किलो सोना समेत 20 करोड़ की संपत्ति का खुलासा

इंदौर। गुरुवार को EOW ने नगर निगम के सहायक यंत्री अभय सिंह राठौर के ठिकानों से 20 करोड़ रुपए की बेनामी जब्त की है. EOW ने आय से अधिक संपत्ति मामले में अभय सिंह राठौर के 4 ठिकानों पर कार्रवाई की थी. जिसके बाद EOW को 20 लाख रुपए नगद, 6 सोने के बिस्किट, 4 घर, 36 बीमा पॉलिसी, कई बैंक अकाउंट लॉकर के कागजात मिले हैं, जिसकी जांच की जा रही है.

वीडियो।


इंदौर नगर निगम का सहायक यंत्री अभय सिंह राठौर करोड़पति निकला है. ईओडब्ल्यू के छापे में राठौर के पास लगभग 20 करोड़ रुपये की बेनामी सम्पति मिली है. ईओडब्ल्यू यानी आर्थिक अपराध अन्वेंषण ब्यूरो को राठौर की शिकायत मिली थी, जिसकी जांच करने के बाद ईओडब्ल्यू के विशेष मजिस्ट्रेट आरके सिंह द्वारा जारी किये गए वारंट के आधार पर राठौर के 4 ठिकानों पर एक साथ कार्रवाई की.
पढ़ें: धनकुबेर निकला इंदौर ननि का अधिकारी अभय राठौड़, EOW के छापे में 20...
यह कार्रवाई राठौर के गुलाब बाग स्थित निवास, जीजा राकेश सिंह और छोटे भाई संतोष सिंह के स्कीम नंबर 78 स्थित बंग्लो और भांजे के बजरंग नगर स्थिति निवास पर की गयी. चारों स्थानों से कुल 20 लाख रुपये नगद, 2 किलो सोना, 36 बीमा पॉलिसी, 4 भवन, जिसमें 2 व्यवसायिक है जिनमे हॉस्टल, दुकानें और फ्लैट्स किराए पर दिए हुए है और 2 आवासीय मिले हैं.
पढ़ें:ग्वालियर: सरकारी जमीन पर बनी कॉलोनियों को वैध करना नियम के विरुद्ध, HC ने प्रदेश सरकार से मांगा जवाब
कार्रवाई में कई बैंक खाते और लॉकर्स भी मिले हैं, जिनकी जांच की जानी बाकी है. राठौर 1996 से नगर निगम में पदस्थ है. कई घोटालों में उसका नाम भी आ चूका है, लेकिन हर बार उनका विभाग बदल दिया जाता है. सहायक यंत्री के पद पर होने के बावजूद वह वर्तमान में स्वच्छता अभियान में यंत्री के प्रभार में है. राठौर की अधिकतर सम्पति अपने रिश्तेदारों के नाम ही है. खुद के नाम पर अधिक सम्पति नहीं रखी है. मामले में ईओडब्ल्यू की टीम जांच में जुटी है.

CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  कारोबार

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  सहेली

  गैलरी

  टूरिज़्म

  ASSEMBLY ELECTIONS 2018

  MAJOR CITIES