• A
  • A
  • A
जबलपुर:कार्यपालन यंत्री रहे केपी तिवारी के लॉकर से निकला इतना सोना कि अधिकारी भी रह गए दंग

जबलपुर। जल संसाधन विभाग में कार्यपालन यंत्री के पद पर पदस्थ रहे केपी तिवारी के ठिकानों पर आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) की कार्रवाई लगातार जारी है. इस बार तिवारी के नागपुर स्थित दो बैंको के लॉकरों को खोला गया है. जिसमें एक-एक किलो सोना मिला है. बैंकों के लॉकरों की जांच के लिए केपी तिवारी को ईओडब्ल्यू द्वारा पहले नोटिस जारी हुये थे.

वीडियो।


नोटिस जारी होने के बाद भी तिवारी ने जांच में किसी भी प्रकार की मदद नहीं की. लिहाजा बीते दिन नागपुर स्थित बैंक में उनके दो लॉकरों को खोला गया. जिसमें मिले सोने की कीमत 80 लाख रुपये बताई जा रही है. सूत्रों के मुताबिक अभी तक के ईओडब्ल्यू की जांच में जल संसाधन के रिटायर कार्यपालन यंत्री के पास से 51 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति का खुलासा हो चुका है.


पढे़ंः SC ने MP हाईकोर्ट के रजिस्ट्रार जनरल को जारी किया नोटिस, यौन शोषण का मामला
लगातार हो रही कार्रवाई के मद्दनेजर माना जा रहा है कि संपत्ति का ये आंकड़ा और भी बढ़ सकता है. वहीं अभी तक की जांच में ईओडब्ल्यू को जबलपुर-सतना और उनके पैतृक गांव में 100 एकड़ से अधिक की कृषि भूमि का खुलासा हुआ है. वहीं सतना में10 कटनी में चार प्लॉट एवं उनके पैतृक गांव में तीन आलीशान घर, तीन किलो सोना ढ़ाई किलो चांदी और दो लाख से अधिक नगद राशि सहित 6 वाहन मिले हैं.

CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  कारोबार

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  सहेली

  गैलरी

  टूरिज़्म

  ASSEMBLY ELECTIONS 2018

  MAJOR CITIES