• A
  • A
  • A
किसी माई के लाल में इतना दम नहीं था कि मुझे मुख्यमंत्री के पद हटाता- उमा भारती

सागर। केन्द्रीय जल एवं पर्यावरण मंत्री उमा भारती ने प्रदेश मुख्यमंत्री का पद छोड़ने के मामले पर कहा कि किसी भी माई का लाल में इतना दम नहीं था कि वह उनसे मुख्यमंत्री की कुर्सी छीन सकता. उन्होंने बड़े ही जोशीले अंदाज में कहा कि किसी ने मां का दूध नहीं पिया था जो उन्हें वहां से हिला सकता.

वीडियो.


केंद्रीय मंत्री ने कहा कि उन्होंने अगर मुख्यमंत्री की कुर्सी छोड़ी है तो वह इसलिए क्योंकि वह तिरंगे का सम्मान करती है. तिरंगे के सम्मान के आगे सीएम की कुर्सी कुछ भी नहीं है. उमा भारती ने कहा कि दिल्ली से लेकर प्रदेश तक कोई नेता उन्हें हटाना नहीं चाहता था और न हटा सकता था. क्योंकि यह पार्टी यह सरकार उनके मेहनत और पसीने से बनी थी.
पढ़ेंः #MeToo:उमा ने किया MJ अकबर का बचाव, मेनका ने कहा- रिटायर्ड जजों की कमेटी करेगी जांच
उमा भारती ने कहा कि जनता ने उनके नेतृत्व में आस्था देखकर वोट दिया था. इसमें कोई सणयंत्र नहीं था. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सिर्फ और सिर्फ तिरंगे की शान के चलते उन्होंने सीएम की कुर्सी छोड़ी है और इसमें भी राजमाता विजयाराजे सिंधिया का मार्गदर्शन था. बता दें उमा भारती राजमाता सिंधिया के जन्म शताब्दी वर्ष के उपलक्ष्य में बीजेपी द्वारा आयोजित कमल शक्ति संवाद कार्यक्र में शामिल होने सागर पहुंची. कार्यक्रम में उन्होंने महिलाओं को जीवन के सिद्धांतो से रूबरू कराते हुए अन्याय के खिलाफ लड़ने की बात कही. वहीं इस कार्यक्रम में सांसद लक्ष्मीनारायण यादव सहित कई जनप्रतिनिधि मौजूद रहे.




CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  कारोबार

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  सहेली

  गैलरी

  टूरिज़्म

  ASSEMBLY ELECTIONS 2018

  MAJOR CITIES