• A
  • A
  • A
मध्यप्रदेश के बुंदेलखंड में भी हुआ था जलियांवाला बाग जैसा हत्याकांड, जानिए इतिहास

छतरपुर। देश की आजादी के लिए कई आंदोलन हुए, तब जाकर साल 1947 में भारत को आजादी मिली. इनमें से जलियांवाला बाग हत्याकांड को देश कभी भूल नहीं सकता. मध्यप्रदेश के छतरपुर में भी एक ऐसी ही जगह है, जहां अंग्रेजों द्वारा ठीक जलियांवाला बाग जैसा हत्याकांड किया गया था.

देखें वीडियो


छतरपुर में स्थित इस जगह का नाम चरणपादुका है. आजादी के लिए जब पूरे देश में महात्मा गांधी के नेतृत्व में आंदोलन चलाए जा रहे थे, तब 14 जनवरी साल 1931 को छतरपुर जिले की इस जगह भी अनेक लोगों ने आमसभा की थी. लेकिन ठीक उसी समय चरण पादुका नाम की इस जगह पर अग्रेंजों ने धावा बोल दिया और सभा में मौजूद लोगों पर गोलियां चला दी.

पढ़ेंःस्वदेशी बोफोर्स के कलपुर्जों की खरीदी मामले में CBI का GCF फैक्ट्री पर छापा, अहम दस्तावेज जब्त
14 जनवरी को हुई उस आमसभा में देखते ही देखते 21 क्रांतिकारी शहीद हो गए. साथ ही 26 लोग बुरी तरह घायल हो गए. उनकी शहादत की याद में स्वतंत्रता के बाद यहां एक चबूतरा बनाया गया, जिसमें इन स्वतंत्रता सेनानियों के लिए एक मशाल भी बनाई गई. इसके बाद साल 1984 में तत्कालीन मुख्यमंत्री अर्जुन सिंह ने भी यहां एक प्रांगण बनवाकर इस जगह का उद्घाटन किया था. लेकिन उसके बाद से इस जगह को आने-जाने वाली सरकारों ने भुला सा दिया है.

CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  कारोबार

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  गैलरी

  टूरिज़्म

  ASSEMBLY ELECTIONS 2018

  MAJOR CITIES