• A
  • A
  • A
नागालैंड के राज्यपाल ने किया झाबुआ का भ्रमण, नहीं देख सके विश्वप्रसिद्ध कड़कनाथ मुर्गा

झाबुआ। जिले के थांदला में तीन दिवसीय वैदिक स्वर्ण सम्मेलन में चल रहा है. जिसमें शामिल होने के लिए नागालैंड के राज्यपाल पीबी आचार्य अपने तय कार्यक्रम से 1 दिन पहले ही झाबुआ पहुंच गए थे. इस दौरान उन्होंने झाबुआ का भ्रमण भी किया.

देखें वीडियो


नागालैंड के राज्यपाल पीबी आचार्य का किसानों से मिलने, हाथी पावा पहाड़ी और झाबुआ की शान माने जाने वाले कड़कनाथ मुर्गे को दिखाने का कार्यक्रम तय किया गया था. इसके बाद जिला प्रशासन ने राज्यपाल से मिलने के लिए जिलेभर से दर्जनभर उन्नतिशील किसानों को जिला मुख्यालय बुला लिया. तय कार्यक्रम के बावजूद किसानों ने उनका 2 घंटे से ज्यादा इंतजार किया और जब राज्यपाल नहीं पहुंचे, तो किसान निराश होकर वापस लौट गए. जानकारी के मुताबिक राज्यपाल भ्रमण के दौरान कड़कनाथ मुर्गा भी नहीं देख सके.

पढ़ेंःदीपेन्द्र सिंह बघेल होंगे माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता विश्वविद्यालय के कार्यवाहक कुलसचिव
वहीं राज्यपाल के स्वागत के लिए केवीके प्रमुख, जिला पंचायत सीईओ, डिप्टी कलेक्टर, उपसंचालक कृषि सहित कई अधिकारियों ने भी उनका घंटों तक इंतजार किया, लेकिन जब उन्हें भी राज्यपाल के आने का कोई संदेश नहीं मिला, तो वो भी वहां से चले गए. हालांकि थांदला में नागालैंड के राज्यपाल ने झाबुआ के देसी खाने का स्वाद चखा. वहीं थांदला में पर्याप्त सुरक्षा इंतजाम नहीं होने और प्रोटोकॉल के चलते इस दौरान उन्हें झाबुआ के गेल सर्किट हाउस में ठहराया गया था.

CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  कारोबार

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  गैलरी

  टूरिज़्म

  MAJOR CITIES