• A
  • A
  • A
...जब शहीद ‘मुन्ना’ की चिता को देख आसमां भी रो पड़ा

खगड़िया। शहीद जवान किशोर कुमार मुन्‍ना का पर्थिव शरीर जब उनके गांव पहुंचा तो उनकी आखिरी विदाई में उमड़े हुजूम को देख आतंकियों को हुक्मरान भी सकते में आ गए। शहीद जवान मुन्ना का पार्थिव शरीर जब उनके घर पहुंचा तो पूरे गांव में कोहराम मच गया।

शहीद का अंतिम संस्कार करते परिजन।


बूंदाबांदी के बावजूद हजारों लोग शहीद जवान को श्रंद्धाजलि देने पहुंचे। इस बीच जब मुन्ना का अंतिम संस्कार हो रहा था, तभी बूंदाबांदी शुरु हो गई। ऐसे में वहां मौजूद लोगों ने कहा- देखों मुन्ना की शहादत पर आज इंद्रदेव भी आंसू बहा रहे हैं। मुन्ना की आखिरी विदाई में मौजूद हर शख्स के गमगीन आंखों से दर्द भरे आंसू छलक रहे थे। शहीद जवान को पूरे सैन्य सम्मान के साथ आखिरी विदाई दी गई।


खगड़िया के चौथम में अंतिम संस्‍कार के लिए उनकी शवयात्रा में भीड़ का आक्रोश आतंकवाद के अलावा पाकिस्‍तान के खिलाफ भी फूटा। लोगों ने शहीद किशोर अमर रहें के साथ पाकिस्‍तान मुर्दाबाद' के नारे भी लगाए। लोगों ने लोगों ने नरेंद्र मोदी सरकार से पाकिस्तान को सबक सिखाने की मांग की है।

बता दें कि बिहार के खगड़िया जिले का बेटा देश की रक्षा करते हुए शहीद हो गया। चार फरवरी को पुंछ में आतंकियों से मुठभेड़ के दौरान घायल हो गया था। सेना के अस्‍पताल में उसका इलाज चल रहा था। एक सप्‍ताह तक जिंदगी और मौत से जूझने के बाद उनकी मृत्‍यु हो गई।


CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  सहेली

  गैलरी

  टूरिज़्म

  اردو خبریں

  ଓଡିଆ ନ୍ୟୁଜ

  ગુજરાતી ન્યૂઝ

  MAJOR CITIES