• A
  • A
  • A
मिला धमकी भरा पर्चा: PM मोदी को लिखा है 157 बार खत, उड़ा देंगे बिहार के दो जंक्शन

सीतामढ़ी: सीतामढ़ी के रीगा रेलवे स्टेशन पर एक सिरफिरे की करतूत ने रेल कर्मियों की नींद उड़ा दी है. मामला रीगा पूर्व मध्य रेलवे और सीतामढ़ी रेखा के बीच अप होम सिंगल नंबर 1 को क्षतिग्रस्त करने और शिमेल के नीचे रखा धमकी भरा पर्चा की खबर देखते ही जंगल की आग की तरह फैल गई. इस दौरान ट्रेनों का आवागमन ठप रहा.

यही वो जंक्शन है, जहां मिला धमकी भरा पत्र.


बताते चले कि रीगा रेलवे स्टेशन के रेल ट्रैक पर काम कर रहे मजदूर ने सिंग्नल के पास एक पर्चा पड़ा देखा. इस पर्चे को पढ़ने के बाद मजदूरों के चेहरे की हवाईयां उड़ गई.उन्होंने इसकी सूचना तत्काल रेल अधीक्षक मनोज कुमार को दी. रेल अधीक्षक ने इसकी सूचना वरीय पदाधिकारियों को दी. इसके बाद स्थानीय थाना को सूचना दी गई.

यह भी पढ़ें- RJD के MLC खुर्शीद की मौत पर लालू परिवार दुखी, तेजस्वी बोले- पापा को बता दिया है
मिली सूचना पर रीगा थाना पुलिस मौके पर पहुंची और रेल ट्रैक के पास रखे पर्चे को उठाया. इस पर्चे में लिखा था कि मैंने 157 बार भाई नरेंद्र मोदी को चिट्ठी दी है. लेकिन मेरा जवाब नहीं मिल पाया. वहीं, पर्चे में लिखा था इस सीतामढ़ी स्टेशन पर बम रखकर उड़ा देंगे. मौके पर पहुंची पुलिस ने बारीकी से रेल ट्रैक के आस पास झाड़ियों में बम की तलाश की. काफी तलाश के बाद कोई सुराग नहीं मिला, तब पुलिस ने इसकी सूचना सीतामढ़ी रेलवे स्टेशन को दी.

मिली सूचना पर सीतामढ़ी रेलवे स्टेशन पर खड़ी गाड़ियों का परिचालन ठप कर दिया गया. रेल परिचालन बंद हो जाने से यात्रियों में करीब 6 घंटे तक अफरा-तफरी मची रही. लोग यह जानने के प्रयास में लगे रहे कि आखिर में हुआ क्या है. कोई कुछ बताने को तैयार नहीं था. यात्री परेशानी से और दहशत से स्टेशन के इधर-उधर भटकते रहे.
यह पढ़ें- ...तो म्यूजिकल गुरु जी के भोजपुरी गीत से थरूर जैसी इंग्लिश बोलते कुमार विश्वास!
करीब 6 घंटे के बाद रेल का परिचालन शुरू किया गया. इस मामले में रीगा स्टेशन के स्टेशन मास्टर मनोज कुमार ने बताया कि रेल का उद्देश्य है कि सुरक्षित परिचालन किया जाए. धमकी भरे पर्चे से संगीन मामला हो सकता था. इसलिए बारीकी से जांच के बाद पुनः रेल का परिचालन शुरू किया गया. वहीं, दूसरी ओर यात्रियों का कहना है कि करीब 6 घंटे के भारी मशक्कत के बाद रेल का परिचालन शुरू किया गया है, जिससे उन्हें काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा है.

CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  कारोबार

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  गैलरी

  टूरिज़्म

  MAJOR CITIES