• A
  • A
  • A
पुलिस की चार टीमों ने घेरा पारसनाथ, जंगल-जंगल ढूंढे जा रहे हैं नक्सली

गिरिडीह: नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के दस्ते की सूचना पर चले सर्च ऑपरेशन के दौरान सुरक्षाबल-नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई. जिस इलाके में मुठभेड़ हुई है उस इलाके की घेराबंदी की गई है, जहां पर नक्सलियों के छिपे होने की सूचना है.

संवाददाता अमरनाथ सिन्हा


बताया जाता है कि शनिवार की अहले सुबह नक्सली संगठन के दस्ते की सूचना पर जैन तीर्थस्थल मधुबन के पीछे और पारसनाथ की तराई वाले इलाके में सीआरपीएफ 154 बटालियन ने सर्च अभियान शुरू किया. इसी दौरान नक्सलियों ने फायरिंग शुरू कर दी. सुरक्षाबलों की ओर से की गई जवाबी फायरिंग के बाद नक्सली मोहनपुर जंगल की ओर भाग निकले. इसके बाद से एसपी-एएसपी के नेतृत्व में पारसनाथ के तराई में स्थित गांव व जंगल में सर्च किया जा रहा है. सर्च के दौरान कुछ लोगों से पूछताछ भी की जा रही है.
ये भी पढ़ें- सरकारी योजना न मिलने पर पति को मिल रही पत्नी की धमकी, 'शौचालय बनवाओ वरना चली जाऊंगी मायके'
नुनुचन्द समेत कई नक्सलियों के छिपे होने की संभावना
इधर बताया जाता है कि जिस इलाके में पुलिस का सर्च अभियान चल रहा है उस इलाके में इनामी नक्सली नुनुचन्द महतो अपने दस्ते के साथ छिपा हो सकता है. ऐसे में एसपी ने चार टीमों को अलग-अलग रास्ते से इलाके में उतारा है.

एक सप्ताह से मिल रहा था इनपुट
बताया जाता है कि इलाके में नुनुचन्द के दस्ते के सक्रिय रहने की भनक पुलिस को पिछले छह-सात दिनों से मिल रही थी. नुनुचन्द की खोज में ही तीन दिनों पूर्व उसके दस्ते के नक्सली शिवा तुरी और सुरेश सोरेन को विस्फोटक के साथ गिरफ्तार किया था. बताया जाता है कि इन दोनों नक्सलियों ने भी पुलिस को कई इनपुट दिया था. जिसके बाद से पुलिस इलाके पर नजर रखे हुए थी.


CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  कारोबार

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  गैलरी

  टूरिज़्म

  ASSEMBLY ELECTIONS 2018

  MAJOR CITIES