• A
  • A
  • A
स्पेशल 26 की तर्ज पर वारदात को देते थे अंजाम, जब पोल खुली तो समाने आया हैरान करने वाला सच

गाजियाबाद। हिंदी फिल्म में आपने मुन्ना भाई के कारनामों को खूब देखा और सुना होगा। अब ऐसे मुन्ना भाई हर शहर में तैयार हो गए हैं जो मौका मिलते ही किसी को भी अपना शिकार बना लेते हैं।

देखें पूरा वीडियो।


क्राइम ब्रांच पुलिस ने तीन शातिर बदमाशों को गिरफ्तार किया है जो फर्जी क्राइम ब्रांच पुलिस बनकर नेशनल हाइवे पर लूट की वारदात को अंजाम देते थे। लूट की वारदात के दौरान ये लोग गाड़ी में वायरलेस का साउंड बजाते थे जिससे सामने वाले को इनपर शक न हो। पुलिस ने इनके कब्जे से 2 गाड़ी, 3 तमंचे, सोने के आभूषण ओर 42 हजार रुपये नकद बरामद किया है।


पढ़ें : आधी रात अचानक तड़तड़ाई गोलियां, Police का सायरन सुन दुकान बंद कर भागने लगे लोग...देखें Video

नेशनल हाइवे पर रहती थी नजर
पुलिस गिरफ्त में खड़े संजय, मुकेश और इंद्रजीत, बेशक ये बदमाश अपना मुंह छिपाए खड़े हैं मगर इनके काले कारनामे सुनकर आप भी हैरात में पड़ जाएंगे। ये बदमाश नेशनल हाइवे पर फर्जी क्राइम ब्रांच पुलिस बनकर लूट की वारदात को अंजाम देते थे। और लोगों को बड़े ही शातिराना अंदाज में लिफ्ट देकर लूट लिया करते थे।

पढ़ें :दिल्ली को दहलाने वाले 'दरिंदे' पर आरोप तय, जानें...कब होगा फैसला


गाड़ी में पुलिस कंट्रोल रूम

शातिर बदमाश लिफ्ट देते समय अपनी गाड़ी में पेन ड्राइव लगाकर रखते थे जिसमें वायरलेस सेट कंट्रोल रूम की आवाजें आती रहती थीं। इससे गाड़ी में बैठने वाले व्यक्ति अपने को सहज महसूस कर आराम से इनकी गाड़ी में बैठ जाता था। फिर ये बदमाश किसी सुनसान जगह पर ले जाकर उस व्यक्ति से लूटपाट कर उसे चलती गाड़ी से फेंक देते थे। इतना ही नहीं अगर किसी व्यक्ति के पास पैसा नहीं है तो हथियारों के बल पर आतंकित कर ATM का पिन पूछकर पैसा निकाल लेते थे।


आरोपियों से बरामद कार


पढ़ें : बेखौफ अपराधी: 6 घंटे में 4 लूट की वारदातें, एक का भी नहीं लगा अब तक सुराग

पुलिस के वेश में देते थे वारदात को अंजाम

हालांकि अब ये बदमाश पुलिस गिरफ्त में हैं जिससे कहीं न कहीं अपराधों में कमी होना लाजमी है। मगर जिस तरह ये बदमाश पुलिस वाला बनकर लूट की वारदात को अंजाम देते थे और वो भी नेशनल हाइवे पर,इससे कहीं न कहीं पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान जरूर खड़े होते हैं कि आखिरकार हाइवे पर पेट्रोलिंग कर रही पुलिस उस समय कहा होती है।



CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  सहेली

  गैलरी

  टूरिज़्म

  اردو خبریں

  ଓଡିଆ ନ୍ୟୁଜ

  ગુજરાતી ન્યૂઝ

  MAJOR CITIES