• A
  • A
  • A
DU छात्रसंघ अध्यक्ष की डिग्री पर बवाल, NSUI कार्यकर्ताओं ने तोड़ दिया सबकुछ, देखें Video

नई दिल्ली: दिल्ली विश्वविद्यालय के बुद्धिस्ट स्टडीज विभाग में एनएसयूआई कार्यकर्ताओं द्वारा तोड़फोड़ की वीडियो सामने आई है. बुद्धिस्ट स्टडीज विभाग के सीसीटीवी कैमरे में गुरुवार को एनएसयूएआई कार्यकर्ताओं की तोड़फोड़ कैद हो गई थी.

देखें वीडियो।


दरअसल दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ अध्यक्ष अंकिव बसोया के फर्जी दाखिले की जांच में देरी और यूनिवर्सिटी प्रशासन द्वारा कोई कदम न उठाए जाने को लेकर गुरुवार को एनएसयूआई ने नॉर्थ कैंपस में चक्का जाम और विरोध प्रदर्शन किया था. इसी मामले में गुस्साए कार्यकर्ताओं ने तोड़फोड़ की थी.
पढ़ें-RTI से हुआ बड़ा खुलासा: अगर मेट्रो में हुआ कोई हादसा तो नहीं मिलेगा मुआवजा
अंकिव का प्रमाण पत्र, गलत और फर्जी
इससे पहले एनएसयूआई ने सीधे तौर पर फर्जी डिग्री को लेकर बसोया की गिरफ्तारी की मांग की थी. एनएसयूआई ने 4 अक्टूबर को तिरुवल्लुवर यूनिवर्सिटी के रजिस्ट्रार द्वारा तमिलनाडु सरकार में मुख्य सचिव को लिखे एक पत्र को साझा किया था. जिसमें रजिस्ट्रार ने कहा था कि अंकिव बसोया न तो यूनिवर्सिटी और न ही उसके किसी संबंधित कॉलेज के छात्र हैं. अंकिव ने तिरुवल्लुवर यूनिवर्सिटी में दाखिला लिया ही नहीं है. अंकिव ने जो प्रमाण पत्र दिखाया है वह सरासर गलत और फर्जी है.


इससे पहले तमिलनाडु की तिरुवल्लुवर यूनिवर्सिटी के कंट्रोलर ऑफ एग्जामिनेशन ने स्पष्ट किया था कि अंकिव बसोया की मार्कशीट फर्जी है. एनएसयूआई का आरोप है कि दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन भाजपा सरकार के दबाव में एकतरफा कार्रवाई कर रहा है जिससे कि इस मामले में ढिलाई बरती जाए और जांच प्रक्रिया धीमी पड़ जाए. एनएसयूआई ने मांग की है कि उनके प्रत्याशी सनी चिल्लर को तुरंत प्रभाव से दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ का अध्यक्ष घोषित किया जाए. साथ ही अंकिव बसोया को दिल्ली विश्वविद्यालय के छात्रों के साथ धोखा करने और प्रशासन के साथ फर्जीवाड़े करने के लिए गिरफ्तार किया जाए.

पढ़ें-मेट्रो, किराया और बवाल! वैशाली मेट्रो स्टेशन के बाहर छात्रों का फूटा गुस्सा, देखें वीडियो
प्रशासन चुप है
सूत्रों की मानें तो दिल्ली विश्वविद्यालय को अंकिव बसोया की मार्कशीट को लेकर तिरुवल्लुवर यूनिवर्सिटी से जानकारी प्राप्त हो चुकी है लेकिन अभी इस मामले में दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन चुप है.


CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  कारोबार

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  सहेली

  गैलरी

  टूरिज़्म

  ASSEMBLY ELECTIONS 2018

  MAJOR CITIES