• A
  • A
  • A
सिस्टम के आगे फेल हुआ 7 साल पहले बना वृद्धाश्रम, बुज़ुर्गों की जगह आवारा कुत्ते कर रहे मौज

नई दिल्ली: वैसे तो उत्तरी दिल्ली नगर निगम आर्थिक तंगी से जूझ रहा है. अपनी इस हालत का काफी हद तक जिम्मेदार निगम खुद भी है. ऐसे ही शालीमार बाग के एबी ब्लॉक में बुजर्गों के लिये निगम ने वृद्धाश्रम की इमारत तो बनवा दी है लेकिन बुज़ुर्गों को अभी तक इसकी सुविधा से दूर रखा हुआ है.

देखें वीडियो।


इलाके के लोगों की पीड़ा इस बात को लेकर है कि इस वृद्धाश्रम की इमारत तो सात साल पहले बनकर तैयार हो गई और निगम की ओर से बनाये गए इस वृद्धाश्रम का कार्य भी पूरा हो चुका है. ऐसे में इतने लंबे समय के इंतजार के बाद भी स्थानीय लोगों को काफी निराशा झेलनी पड़ रही है.

पढ़ें- दिल्ली में कांग्रेस की राह आसान नहीं! पार्टी को जीवनदान देना शीला दीक्षित के जिम्मे


निर्माण में करोड़ों की आई लागत
स्थानीय लोगों का कहना है कि इस इमारत को निगम ने करोड़ों की राशि खर्च करके बनाया है बावजूद इसके निगम के नेता और सम्बन्धित विभाग के कर्मचारी लापरवाह हो रहे हैं. इस आश्रम को बनाने का जो मकसद था वो पूरा होता नजर नहीं आ रहा है.


कई बार करा चुके हैं अवगत
इलाके के लोगों ने नाराजगी जाहिर करते हुए जहा कि काफी बार इस संदर्भ में निगम के नेताओं और सम्बन्धित विभाग को अवगत कराया जा चुका है. बावजूद इसके अभी तक किसी ने इसकी सूद नहीं ली गई.


पढ़ें- Exclusive: खास बातचीत में बोलीं शीला- दिल्ली में मोदी लहर खत्म, नहीं होगा किसी से गठबंधन


बुज़ुर्गों की जगह आवारा कुत्ते कर रहे मौज
सात साल पूर्व बने इस आश्रम में अब आवारा कुत्तों का बसेरा है. करोड़ों की राशि खर्च करके बनाये गए इस वृद्धाश्रम में अब आवारा कुत्ते मौज कर रहे हैं.

लगा रहता है कुत्तों के काटने का डर
इलाके के लोगों का कहना है कि कई बार इन आवारा कुत्तों ने यहां आवाजाही करने के दौरान कई लोगों को काटा है. इन आवारा कुत्तों के भय से अब हर कोई यहां अकेल जाने से कतराता हैं.

स्थानीय लोगों को उम्मीद है कि उत्तरी निगम इलाके की पीड़ा को समझे और जल्द से जल्द इस वृद्धाश्रम की सुविधाएं लोंगो को मिल सके.



CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  कारोबार

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  गैलरी

  टूरिज़्म

  ASSEMBLY ELECTIONS 2018

  MAJOR CITIES