• A
  • A
  • A
EXPERT राय: इंटरनेट चलाते वक्त बड़े काम की हैं ये 6 जानकारियां

नई दिल्ली। आए दिन लोग इंटरनेट फ्रॉड का शिकार होते रहते हैं। इंटरनेट के प्रयोग के वक्त कुछ बातों का ध्यान जरूर रखना चाहिए ताकि हैकर्स को आपके बारे में ज्यादा जानकारी न मिले। ऐसी ही कुछ जरूरी बातों के बारे में बताने जा रहे हैं साइबर एक्सपर्ट रक्षित टंडन...।

देखें वीडियो।


इंटरनेट आज के जमाने में हमारी मूल जरूरत बन गया है। भारत में इंटरनेट का इस्तेमाल बढ़-चढ़कर किया जाता है और इसी के बीच इंटरनेट फ्रॉड की घटनाएं सामने आती है। समाज के कुछ असामाजिक तत्व आपकी निजी जानकारी चुराकर आपको नुकसान पहुंचाते हैं। इंटरनेट पर रोज होने वाली इन घटनाओं से बचा जा सकता है लेकिन उसके लिए आपको कुछ बातों को ध्यान में रखना होगा।


टू-स्टैप वैरिफिकेशन है जरूरी
किसी भी ऐप या वेबसाइट के इस्तेमाल से पहले टू-स्टैप वेरिफिकेशन जरूर ऑन करें। टू-स्टेप वैरिफिकेशन में आपके पासवर्ड के साथ-साथ एक एक्स्ट्रा वैरिफिकेशन लेयर की मांग की जाती है। इससे आपका एकाउंट सिर्फ पासवर्ड डालने से नहीं खुलेगा और पासवर्ड पता होने के बावजूद कोई आपका एकाउंट बिना आपकी इजाजत के नहीं खोल पाएगा।

ये भी पढ़ें -
PAK वाया बांग्लादेश से हो रहा है मोदी के सपने का कत्ल! जानिए दुश्मन की 'गुलाबी साजिश'

हर जगह न साझा करें अपनी निजी जानकारी
ऑनलाइन फ्रॉड और हैकिंग के ज्यादातर मामलों में हैकर आपकी निजी जानकारी की मदद से आपके अकाउंट्स में घुस जाते हैं। ऐसे में ये सुनिश्चित करना हमारी अहम जिम्मेदारी है कि हम अपनी निजी जानकारी किसी भी पब्लिक प्लेटफार्म पर साझा न करें। सोशल मीडिया पर भी हमें एक सीमा तक ही निजी जानकारी साझा करनी चाहिए।

प्राइवेसी सेटिंग्स का करें इस्तेमाल

साइबर एक्सपर्ट रक्षित टंडन के मुताबिक, गूगल, फेसबुक और ट्विटर जैसे सोशल प्लेटफॉर्म्स का प्रयोग करने से पहले हमें इन पर मौजूद प्राइवेसी सेटिंग्स को समझना चाहिए। हमारे द्वारा शेयर की जा रही फैमिली पिक्चर या किसी जगह घूमने की खबर, आखिर किस-किस के पास जा रही है ये हमें पता होना चाहिए। प्राइवेसी सेटिंग्स के सही इस्तेमाल से कोई भी व्यक्ति आपका गलत फायदा नहीं उठा पाएगा।

ये भी पढ़ें - चलती बस में DU की लड़की से हुई 'ऐसी गंदी हरकत', देखकर खौल उठेगा खून

अनजान साइट्स से न करें डाउनलोड
किसी भी अनजान साइट से कुछ भी डाउनलोड न करें। ये साइट्स आपको फ्री सॉफ्टवेयर या एप्लीकेशन का लालच देकर आपके कंप्यूटर या मोबाइल फोन में घुस जाती हैं और आपकी गतिविधियों पर नजर रखती हैं। किसी भी अनजान साइट का इस्तेमाल आपको कंगाल बना सकता है और इसके लिए बेहद सतर्क रहने की जरूरत है।

स्मार्टफोन के प्रयोग के लिए बनें स्मार्ट

स्मार्टफोन का प्रयोग करते में भी हमें बहुत एहतियात बरतने की जरूरत है। रक्षित टंडन के मुताबिक, स्मार्टफोन यूजर्स को स्मार्ट बनने की जरूरत है। स्मार्टफोन पर कोई भी ऐप इनस्टॉल करने से पहले हमें इस बात की जानकारी होनी चाहिए कि ये ऐप हमारे फोन में मौजूद किस-किस जानकारी को पढ़ रही है। अपने फोन में मौजूद किसी भी पर्सनल जानकारी को किसी अनधिकृत ऐप से साझा न करें। इससे अलग, अपने फोन में मौजूद एप्पलीकेशन्स को नियमित रूप से अपडेट करना भी बहुत जरूरी है।

ये भी पढ़ें - 6 लड़कियों की जान खतरे में डाल भाग रहा था शख्स, Public को आया गुस्सा और फिर दे दनादन, देखें Video

सुरक्षित साइट्स पर ही करें पेमेंट
ऑनलाइन पेमेंट करते वक्त सिर्फ सिक्योर साइट्स पर ही पेमेंट करें। सिक्योर साइट्स की पहचान वेबसाइट के एडरेस बार के सामने बने हरे ताले और https से की जा सकती है। सिक्योर साइट्स पर पेमेंट से फ्रॉड जैसे मामलों से बचा जा सकता है।

CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  सहेली

  गैलरी

  टूरिज़्म

  اردو خبریں

  ଓଡିଆ ନ୍ୟୁଜ

  ગુજરાતી ન્યૂઝ

  MAJOR CITIES