• A
  • A
  • A
नशे के खिलाफ तेज हुई जंग, उठाया गया ये बड़ा कदम...

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में अवैध रूप से चल रहे 11 नशा मुक्ति केन्द्रों को नोटिस जारी किया है। हैरान करने वाली बात ये है की इस लिस्ट में दो सरकारी अस्पताल में चल रहे नशा मुक्ति केंद्र भी शामिल हैं, जो बिना पंजीकरण के ही चलाए जा रहे है।

नशा मुक्ति केंद्र।


दिल्ली नगर निगम, शाहदरा उत्तरी क्षेत्र के उपायुक्त दीपक शिंदे के निर्देश पर जनस्वास्थ्य विभाग की तरफ से शाहदरा उत्तरी क्षेत्र में अवैध रूप से चल रहे 11 नशा मुक्ति केन्द्रों को नोटिस जारी किया गया है। इस लिस्ट में पूर्वी दिल्ली के दो बड़े अस्पताल- इबहास तथा जग प्रवेश अस्पताल भी शामिल है, जिन्हें नोटिस जारी किया गया है।

नहीं करवाया सामाजिक कल्याण विभाग से पंजीकरण

उपायुक्त दीपक शिंदे ने बताया कि दोनों अस्पतालों द्वारा सामाजिक कल्याण विभाग से पंजीकरण नहीं करवाया गया है, जिसके कारण इन अस्पतालों को यह नोटिस जारी किया है। उपायुक्त दीपक शिंदे का कहना है कि माननीय उच्च न्यायालय के आदेशानुसार अवैध रूप से चल रहे इन 11 नशा मुक्ति केन्द्रों को शीघ्र ही सील कर दिया जायेगा।


पढ़ें - सरकार का दावा : दुनिया में भारत 10वें स्थान पर, वन क्षेत्र में हुई बढ़ोतरी!

शाहदरा उत्तरी क्षेत्र के नशा मुक्ति केन्द्रों को किया चिन्हित
बता दें कि माननीय उच्च न्यायालय के आदेशानुसार क्षेत्र में अनाधिकृत रूप से चल रहे नशा मुक्ति केन्द्रों को बंद करवाने के उद्देश्य से एक बैठक का आयोजन किया गया था जिसमें शाहदरा उत्तरी क्षेत्र के उप-स्वास्थ्य अधिकारी, शाहदरा एवं उत्तर पूर्वी क्षेत्र के जिला चिकित्सा अधिकारी, सामाजिक कल्याण विभाग के अधिकारी, पुलिस अधिकारी आदि ने भाग लिया। इस बैठक में शाहदरा उत्तरी क्षेत्र में अवैध रूप से चल रहे 11 नशा मुक्ति केन्द्रों को चिन्हित किया गया तथा इसके उपरांत सभी 11 नशा मुक्ति केन्द्रों को नोटिस जारी कर दिया गया है।



CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  सहेली

  गैलरी

  टूरिज़्म

  اردو خبریں

  ଓଡିଆ ନ୍ୟୁଜ

  ગુજરાતી ન્યૂઝ

  MAJOR CITIES