• A
  • A
  • A
आज रात 12 बजे से गंगनहर में बंद हो जाएगी पानी की सप्लाई, दिल्ली-एनसीआर में हो सकती है पानी की किल्लत

हरिद्वार: धर्मनगरी में गंगा की वार्षिक सफाई के कारण गंग नहर को हर साल बंद किया जाता है, लेकिन इस बार एक महीने की बंदी के चलते लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. इससे दिल्ली एनसीआर में पानी की किल्लत बढ़ सकती है. गंगा बंदी का विरोध करते हुए तीर्थ पुरोहितों और व्यापारियों ने सड़कों पर धरना प्रदर्शन की बात कही है.

जानकारी देते सिंचाई विभाग एसडीओ विक्रांत सैनी.


हरिद्वार से कानपुर तक जाने वाली गंगा को हर साल इसलिए बंद किया जाता है, ताकि गंगा की साफ सफाई हो सके और गंगा नदी के रास्तों की मरम्मत और अन्य जरूरी कार्य किए जा सकें. केंद्र सरकार हर साल इसके लिए विभाग को भारी बजट भी देती है. हर साल गंगा में होने वाले कार्य लगभग 22 दिन में पूरे कर लिए जाते थे, लेकिन पहली बार एक महीने तक बंद करने का शासनादेश सरकार से यूपी सिंचाई विभाग को प्राप्त हुआ है.
वार्षिक मरम्मत कार्यों के चलते गंगा बंदी से लगभग एक महीने तक दिल्ली एनसीआर के लोगों को जल संकट का सामना करना पड़ेगा. साथ ही धर्मनगरी के तीर्थ पुरोहित और व्यापारियों ने भी यात्रा सीजन में नुकसान के चलते खड़खड़ी से मायापुर तक पर्याप्त पानी छोड़े जाने की मांग की है. इसके लिए तीर्थ पुरोहित और व्यापारी सड़कों पर उतरकर धरना प्रदर्शन करने की बात कर रहे हैं. पुरोहितों का आरोप है कि हिन्दू त्योहारों के समय सिंचाई विभाग जानबूझ कर गंगा को बंद करता है, यह हिन्दूओं की आस्था पर कठोराघात की साजिश है.
पढ़ें: क्यों खतरे में है महाशीर मछली का अस्तिव, जानिए इस खास रिपोर्ट में
एसडीओ विक्रांत सैनी ने बताया कि इस बार करीब एक महीने के लिए गंग नहर बंदी का शासनादेश विभाग को प्राप्त हुआ है. 7 अक्टूबर मध्यरात्रि से 7 नवंबर मध्यरात्रि तक गंग नहर को बंद किया जाएगा. इस दौरान गंगा में साफ सफाई मरम्मत, रेगुलेटर में ऑयलिंग सिल्ट की सफाई और अन्य जरूरी कार्य किए जाएंगे. सिंचाई के लिए अभी पानी की ज्यादा जरूरत नहीं है जहां तक पानी की किल्लत का सवाल है तो दिल्ली के कुछ इलाकों में पानी की पूर्ति बाधित हो जाती है जिसके लिए योजनाबद्ध तरीके से कार्य किया जाएगा. इससे पहले भी व्यापारियों और तीर्थ पुरोहितों ने विरोध किया था, लेकिन गंगा सफाई के चलते यह कदम उठाना जरूरी है.

CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  कारोबार

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  सहेली

  गैलरी

  टूरिज़्म

  ASSEMBLY ELECTIONS 2018

  MAJOR CITIES