• A
  • A
  • A
जब तक 'नकली सदन' रहेगा देश से गरीबी-बेरोजगारी दूर नहीं होगी- सैनी

नूंह। कुरुक्षेत्र से सांसद राजकुमार सैनी ने संसद के ऊपरी सदन राज्यसभा पर करारा हमला करते हुए कहा कि जब तक देश में नकली राजनीति का खात्मा नहीं होगा, तब तक बेरोज़गारी, गरीबी दूर नहीं हो सकती।

क्लिक कर वीडियो देखें।


सांसद राजकुमार सैनी का कहना है कि देश में जो क़ानून अंग्रेजों ने बनाया था, हम आज़ाद भारत में भी उसी को ढो रहे हैं। अगर फर्क आया है, तो सिर्फ इतना कि उस समय गोरे अंग्रेजों ने राज किया, आज काली चमड़ी वाले कर रहे हैं। राज्यसभा में चोर दरवाजे से सांसद बनकर जाने वाले राजनेता लोकसभा के चुने हुए सांसदों पर भारी पड़ते हैं।


उन्होंने कहा कि जो बिल लोकसभा में पास हो जाता है, उसे राज्यसभा में रोक दिया जाता है। जींद रैली की सफलता पर कार्यकर्ताओं का आभार जताने नूंह पहुंचे सांसद सैनी ने कहा कि विधानसभा-लोकसभा चुनाव की तैयारी हमने तमाम तैयारी शुरु कर दी हैं।

पढ़ें-हरियाणा की इन जेलों में खुलेंगी गौशालाएं

आरक्षण पर फिर बरसे सैनी
इस दौरान सैनी ने कहा कि सूबे में जिस बिरादरी की सबसे ज्यादा हिस्सेदारी है, वो आरक्षण मांग रही है। सरकारों को धमकी दी जाती है। हरियाणा को जलाया जाता है, लेकिन देश का कोई भी सांसद इसके खिलाफ लोकसभा से लेकर सड़कों पर आवाज़ उठाता दिखाई नहीं देता।

सांसद ने आरोप लगाया कि उन्होंने हक़ की बात की, तो उस खास बिरादरी के लोगों को वे रास नहीं आये। उन्होंने कहा कि जाट नेताओं ने उन पर खूब हमले किये, मगर वे किसी से डरने वाले नहीं हैं। सैनी ने कहा कि सबको समान रूप से आर्थिक आधार पर आरक्षण मिलना चाहिए। इस दौरान सैनी अपनी राजनीति चमकाते भी नजर आए। उन्होंने कहा कि अगर वे सूबे के सीएम बने तो एक परिवार-एक रोजगार के अलावा किसान-मजदूर के हक़ में कारगर कदम उठायेंगे।

पद को लेकर कही ये बात

नूंह दौरे ने साफ कर दिया कि राष्ट्रीय लोकतंत्र सुरक्षा मंच के बैनर तले ही वे चुनावी समर में होंगे। सांसद सैनी ने कहा कि वे पद के भूखे नहीं हैं। उन्होंने जोर देते हुए कहा कि इससे पहले वे बंसीलाल, ओपी चौटाला की सरकारों में मंत्री पद ठुकरा चुके हैं।




CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  सहेली

  गैलरी

  टूरिज़्म

  اردو خبریں

  ଓଡିଆ ନ୍ୟୁଜ

  ગુજરાતી ન્યૂઝ

  MAJOR CITIES