• A
  • A
  • A
दुष्कर्म-घरेलू हिंसा से प्रताड़ित महिलाओं को मिलेगी 'छत', दर-दर भटकने की नहीं पड़ेगी नौबत

कुल्लू: जिला कुल्लू में दुष्कर्म या घरेलू हिंसा से प्रताड़ित महिलाओं की सहायता के लिए ढालपुर में वन स्टॉप सेंटर का शुभारंभ किया गया. इस सेंटर में पीड़ित महिलाओं को न्याय दिलाने व उनके पुनर्वास की मदद की जाएगी.

प्रताड़ित महिलाओं को दी जाएगी सहायता(वीडियो


कुल्लू के उपायुक्त यूनुस ने शनिवार को इस सेंटर का शुभारंभ किया. जिला कार्यक्रम अधिकारी वीरेंद्र आर्य ने इस सेंटर में दी जाने वाली सुविधाओं की जानकारी दी. दुष्कर्म, दहेज या घरेलू हिंसा से प्रताड़ित महिलाओं को इस वन स्टॉप सेंटर में रहने की सुविधा दी जाएगी.

सेंटर में महिला के लिए मेडिकल और कानूनी सहायता का भी विभाग द्वारा मुफ्त में प्रावधान किया जाएगा. ताकि महिला को दर-दर भटकने की नौबत ना पड़े. महिला को तब तक रहने की सुविधा दी जाएगी जब तक महिला एवं बाल कल्याण विकास विभाग द्वारा उसके पुनर्वास व रोजगार की उचित व्यवस्था नहीं की जाती है.

पढ़ें:सिरमौरः गहरी खाई में गिरी आल्टो कार, 30 वर्षीय युवक की मौत
ऐसे में अब घरेलू हिंसा से पीड़ित महिलाओं को घर की तलाश के लिए जगह-जगह नहीं भटकना पड़ेगा. जिला कार्यक्रम अधिकारी वीरेंद्र आर्य ने बताया कि इस सेंटर में अभी 5 कमरों की व्यवस्था की गई है. जल्द ही यहां लीगल एडवाइजर, सुरक्षा कर्मचारी ऑफिस इंचार्ज की सुविधा भी उपलब्ध करवाई जाएगी.
ये भी पढ़ें:कहीं खुशी कहीं गम, सुक्खू के 'आउट' होने पर वीरभद्र सिंह के घर बंटे लड्डू, कहा- अब लड़वाउंगा
वीरेंद्र आर्य ने कहना है कि जिला कुल्लू में महिलाओं के साथ घरेलू हिंसा होने की स्थिति में सेंटर में उन्हें आश्रय दिया जाएगा. महिला को विभाग द्वारा सभी सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएंगी और उसके पुनर्वास की व्यवस्था का जिम्मा भी किया जाएगा.



CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  कारोबार

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  गैलरी

  टूरिज़्म

  MAJOR CITIES