• A
  • A
  • A
लखनऊ में पहली बार एक साथ दिखे अखिलेश-मायावती के पोस्टर

लखनऊ: आने वाले लोकसभा चुनावों को देखते हुए सभी राजनीतिक दलों में हलचल तेज हो गई है. जोड़-तोड़ और मेल-मिलाप की प्रक्रिया भी शुरू हो गई है. इसका बेहतरीन नमूना इन दिनों राजधानी की सड़कों पर दिखाई दे रहा है. पहली बार अखिलेश और मायावती एक पोस्टर पर नजर आ रहे हैं. पार्टी ऑफिस के बाहर दोनों पार्टियों के झंडे भी एक ताल में लहरा रहे हैं.

महागठबंधन में शामिल हुई बसपा.

दुश्मन का दुश्मन दोस्त होता है. इस कहावत को सार्थक करते यह पोस्टर साफ दिखा रहे हैं कि विपक्षी पार्टीयां बीजेपी को हराने के लिए किसी भी हद तक जाने को तैयार हैं. सालों से एकदूसरे के कट्टर विरोधी रहे अखिलेश और मायावती ने आखिरकार हाथ मिलाकर महागठबंधन को और मजबूती देने की कोशिश की है. शनिवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए दोनों पार्टी अध्यक्ष इस नई दोस्ती का एलान करेंगे. गठबंधन का लक्ष्य पूरा करने के बाद अब महागठबंधन में सीटों के बंटवारे को लेकर चर्चा हो सकती है.


अभी कुछ दिनों पहले ही भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने इस साल के लोकसभा चुनाव की चुलना पानीपत के युद्ध से की थी. अब देश के हालात भी कुछ-कुछ इसी ओर इशारा कर रहे हैं. इस युद्ध में पक्ष और विपक्ष कौन-कौन से हथियार इस्तेमाल करेंगे और जनता इन हथियारों का जवाब किस अंदाज में देगी यह देखना सचमुच रोमांचक हो सकता है.

CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  कारोबार

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  गैलरी

  टूरिज़्म

  MAJOR CITIES