• A
  • A
  • A
स्वाइन फ्लू का कहर, अलवर में 15 दिन में 1 दर्जन मामले पाए गए पॉजिटिव

अलवर। जिले में स्वाइन फ्लू का प्रकोप बढ़ने से चिकित्सा महकमे में हड़कंप मच गया है। जिले में स्वाइन फ्लू की पुष्टि के बाद अब जिला स्वास्थ्य प्रशासन गंभीर हो गया है। अलवर जिले में विगत करीब 15 दिन में एक दर्जन मरीजों की स्वाइन फ्लू की रिपोर्ट की पॉजिटिव आने से जिला प्रशासन के दावों की पोल खुल गई है।

अलवर में स्वाइन फ्लू की जांच करते डॉक्टर।


वहीं अब चिकित्सा प्रशासन ने इसको गंभीरता से लेकर घर-घर सर्वे करने का निर्णय लिया है। स्कूलों में भी बच्चों की जांच की जाएगी। इसके लिए टीमें गठित की गई हैं। स्वाइन फ्लू वार्ड में ड्यूटी दे रहे डॉक्टर राजीव मित्तल ने बताया कि प्रमुख चिकित्सा अधिकारी के निर्देश पर एक प्रकोष्ठ का गठन किया गया है जिसमें हर रोज नया चिकित्सक तैनात किया जाएगा जो स्वाइन फ्लू से संबंधित मरीजों को देखेगा।


रात भर पानी में भिगोकर रखी जाती है ये 80 किलो की फुटबाल, अनोखा है ये 'दड़ा' खेल

उन्होंने कहा कि अस्पताल में स्वाइन फ्लू से निपटने की सभी सुविधाएं मौजूद है। ठंड के मौसम में स्वाइन फ्लू अधिक फैलता है। ऐसे में इन्फेक्शन से बचने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि थोड़ा से भी लक्षण सामने दिखाई देने पर टेमीफ्लू की टेबलेट 5 दिन तक दी जाती है जिसका असर 6 माह तक रहता है। उन्होंने बताया कि इसकी जांच जयपुर में कराई जाती है कोई भी मरीज ठंड या वायरल से पीड़ित आता है और उसमें प्रारंभिक लक्षण लगते हैं तो उसे टेमी फ्लू की टेबलेट दी जाती है। सर्दी से बच कर रहना रहना चाहिए।



CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  सहेली

  गैलरी

  टूरिज़्म

  MAJOR CITIES