• A
  • A
  • A
मकर संक्रांति: चाइना डोर से कैसे बचाएं अपनी और बच्चों की जान

जयपुर। आज मकर संक्रांति है। बच्चों से लेकर बड़ों तक सभी में पंतगबाजी का लेकर भारी उत्साह देखने को मिलता है। लेकिन यह उत्साह और जुनून में चाइनीज मांझा खुशियों पर भारी पड़ सकता है।

डिज़ाइन फोटो।


चाइनीज मांझा इतना खतरनाक है की इसकी चपेट में आने से जान तक जा सकती है। चाइनीज मांझे पर सरकार भले ही रोक लगा चुकी हो, मगर इसकी बिक्री अभी पूरी तरह से थमी नहीं है।


मांझे के कहर से कैसे बचाएं अपनी और नौनिहालों की जान
पतंगबाजी के दौरान पिछले कुछ सालों से चाइनीज मांझे का उपयोग बढ़ गया है। लेकिन चाइनीज मांझे के दुष्परिणाम को जानते हुए भी लोग अंजान बन रहे लोग, मांझे का इस्तेमाल किसी की जिंदगी छीन सकता है और किसी के परिवार की खुशियां उजाड़ सकता है, तो आइये जानते है, कैसे आप अपनी और अपने बच्चों की सुरक्षित रख सकते है।
  • गले पर मफलर, रूमाल या चुन्नी बांधकर दो पहिया वाहन चलाएं।
  • बच्चों के गले में भी पर मफलर, रूमाल, चुन्नी बांधे।
  • बाइक सवार खुद भी और बच्चे को भी हेलमेट से सुरक्षित रखें।
  • बाइक की अगले पहिए के शॉकर के साइड में लकड़ी या लोहे की छड़ लगवाएं।
  • लकड़ी या लोहे की छड़ लगवाने से मांझा आप तक आने से पहले ही उलझ जाएगा।
  • बच्चों को कोशिश करें कि मोटर साइकिल पर आगे नहीं बैठाएं।
  • मांझे से घायल होने पर गले से खून निकले तो तुरंत रूमाल या कपड़े से दबाकर अस्पताल पहुंचे।
पढ़ें: मकर संक्रांति: पतंगबाजी के दौरान इन बातों का रखें ध्यान

पतंगबाजी की दिवानगी लोगों के सिर पर सवार है। लेकिन कभी आपने सोचा है कि आपका यह शौक किसी के लिए जानलेवा भी साबित हो सकता है। कहीं आप पतंग काटने के फेर में किसी से ना खेल जाए। तो इस बात का विशेष ध्यान रखें।


CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  कारोबार

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  सहेली

  गैलरी

  टूरिज़्म

  MAJOR CITIES