• A
  • A
  • A
राहुल के कार्यक्रम में वसुंधरा के इस खास मंत्री के बेटे के शामिल होने के बाद पार्टी के भीतर चढ़ा पारा

चुनाव के मैदान में जारी सियासी संघर्ष के बीच हाल में राजस्थान दौरे पर आए राहुल गांधी के कार्यक्रम में वसुंधरा सरकार के खास मंत्री के बेटे के शामिल होने के बाद से बवाल मचा हुआ है....

राहुल गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष


जयपुर . कांग्रेस हाईकमान राहुल गांधी के कार्यक्रम में वसुंधरा सरकार के खास मंत्री राजेंद्र राठौड़ के बेटे के शामिल होने और वापस लौटकर की गई टिप्पणी के बाद से पार्टी के भीतर हंगामा मचा हुआ है. पार्टी के हर नेता के जुबान पर बस एक ही सवाल गूंज रहा है कि आखिर मंत्री राठौड़ के बेटे को बुलाया किसने था?. लेकिन, इस सवाल पर कोई कुछ बोलने को तैयार नहीं है. वहीं, इस कार्यक्रम की देखरेख करने वाले सहप्रभारी विवेक बंसल पर भी उंगली उठ रही है.
पढ़ेंःगोगामेड़ी बोले- हम 4 नवंबर को पत्ते खोलेंगे, उसके साथ जाएंगे जो पार्टी हमें देगी 35 सीटें
दरअसल, चुनावी रणनीति के तहत हाल में राजस्थान दौरे पर आए राहुल ने जयपुर में पांच सितारा होटल में युवा उद्यमियों से मुलाकात की थी. इस कार्यक्रम में वसुंधरा के खास मंत्री राजेंद्र राठौड़ के बेटे पराक्रम सिहं भी पहुंच गए. कार्यक्रम से बाहर निकलने के बाद पराक्रम ने राहुल के कार्यक्रम पर टिप्पणी की थी. जिसमें उन्होंने कहा था कि 'राहुल गांधी को सुनने के बाद मुझे निराशा ही नहीं हुई, बल्कि ऐसा लगा कि कार्यक्रम में मैने और मेरे जैसे सभी उद्यमियों केवल समय बर्बाद किया है'. मंत्री के बेटे की इस टिप्पणी के बाद से कांग्रेस के भीतर सियासी भूचाल आ गया है.

पढ़ेंः अविनाश पांडे का कार्यकर्ताओं को मैसेज- आज आएगा राहुल का फोन, तैयार रहना
कांग्रेस के भीतर सवाल उठने लगा है कि आखिर मंत्री राठौड़ के बेटे को इस खास कार्यक्रम में किसने बुलाया था. वहीं, आरोप यह भी लगने लगे हैं कि जो उद्यमी कांग्रेस विचारधारा के लोग थे, उनमें से अधिकतर को बुलाया नहीं गया. जबकि, मंत्री के बेटे को इस कार्यक्रम में आमंत्रित कर लिया गया. वहीं, इस कार्यक्रम की देख रेख करने वाले सहप्रभारी विवेक बंसल पर भी कई सवाल खड़े हो रहे हैं. जिसमें सबसे बड़ा सवाल यही है कि उद्यमियों की सूची तैयार होते समय क्यों नहीं ढंग से देखा गया. लेकिन, इन सभी सवालों पर नेताओं ने चुप्पी साध ली है. वहीं, अंदरखाने मंत्री के बेटे के आगमन और टिप्पणी को लेकर कई तरह के कयास लगाए जा रहे हैं.

CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  कारोबार

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  सहेली

  गैलरी

  टूरिज़्म

  ASSEMBLY ELECTIONS 2018

  MAJOR CITIES