• A
  • A
  • A
राजस्थान की दिनभर की बड़ी राजनीतिक खबरें, देखिए एक नजर में

जयपुर. देखिए राजस्थान की दिनभर की राजनीतिक हलचल. चुनाव फंडिंग को लेकर सैनी ने कैसे साधा कांग्रेस पर निशाना, हनुमान बेनीवाल ने क्या दिया बड़ा बयान, वसुंधरा के बेटे दुष्यंत की कंपनी को लेकर क्या है दिल्ली हाईकोर्ट का बयान, किरोड़ीलाल मीणा का क्या है राहुल पर तंज और पार्टियों को लेकर क्या है करणी सेना का प्लान. राजस्थान रो रण बस एक क्लिक में...

डिजाइन फोटो.


1. कांग्रेस के पास पैसे की कमी...क्या मजाक है...इमेरजेंसी में तो इन्होंने जयपुर के राजघराने तक को लूट लिया था- सैनी विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा ने कांग्रेस के चुनाव फंडिंग अभियान पर सवाल उठाते हुए गंभीर आरोप लगाया है. आरोप की मुख्य वजह हाल ही में राहुल गांधी के जयपुर दौरे के दौरान होटल रेडिशन ब्लू और क्लार्क्स आमेर में हुई बैठक के बाद अब कुमारी शैलजा द्वारा ली गई स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक है. बता दें कि यह बैठक फाइव स्टार होटल में रखी गई थी, जिस पर भाजपा ने कटाक्ष किया है. भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के अनुसार कांग्रेस का आम जनता के बीच जाकर चुनावी फंड एकत्रित करने का बयान महज दिखावा है. क्योंकि कांग्रेस का कल्चर ही होटल कल्चर रहा है. सैनी ने कहा है कि कांग्रेस के पास इतना पैसा है, जिसकी कल्पना कोई कर भी नहीं सकता. वे यही नहीं रुके, बल्कि उन्होंने बातों ही बातों में यह तक कह डाला कि इमरजेंसी के दौरान जयपुर राजघराने के महलों और किलो को खोदकर माल ले जाने की चर्चाएं भी आम हैं. उनके अनुसार यहां से इतना पैसा गया जिसकी चर्चा आज तक होती है.


मायावती बन सकती है, ममता बन सकती है, मांझी बन सकता है तो राजस्थान में जाट मुख्यमंत्री क्यों नहीं बन सकता- बेनीवाल


2. 'हनुमान बेनीवाल धोखा देने वालों में से नहीं है'
चुनाव के मैदान में जारी सियासी दांव-पेच के बीच खींवसर विधायक हनुमान बेनीवाल ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा है कि वे ऐसे व्यक्ति नहीं हैं जो लोगों की भावनाओं के साथ सौदा कर दे. वे हर समीकरण को देखकर आगे बढ़ेंगे. बेनीवाल जोधपुर के ओसिया क्षेत्र के भेड़ गांव में हनुमान साईं के मूर्ति अनावरण कार्यक्रम के दौरान बोल रहे थे. बेनीवाल ने कहा कि वे आमजन की परेशानियों को देखते हुए लगातार आंदोलन कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि मैं लोगों के भावनाओं के साथ खेलने वाला नहीं हूं. नागौर में लोकसभा चनाव लड़ा था, तब मुझे पता था कि मेरे लड़ने से भाजपा जीतेगी. लेकिन, मुझे नागौर में कांग्रेस के नेताओं का दिमाग सही करना था. बेनीवाल ने कहा कि उस समय लोगों ने कहा था कि आप तो कह रहे थे कि दोनों पार्टियों को सही करेंगे. इस पर मैने कहा था कि इस बार कांग्रेस का दिमाग सही कर दिया है. 2019 में भाजपा को हरा दूंगा. बेनीवाल ने कहा कि जयपुर की धरती से 29 अक्टूबर को 15 लाख लोग व्यवस्था परिवर्तन की हुंकार भरेंगे. ये हुंकार लोगों को न्याय दिलाने की है. क्योंकि, राजस्थान का सर्वांगीण विकास तभी हो सकता है. जब यहां पर किसान का बेटा मुख्यमंत्री बनेगा. क्योंकि, वसुंधरा और गहलोत तो एक ही हैं.

3. वसुंधरा के बेटे दुष्यंत की कंपनी और ललित मोदी के बीच शेयरों की खरीद पर दिल्ली हाईकोर्ट हुआ सख्त, दिए निर्देश
राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के सांसद पुत्र दुष्यंत सिंह और उनकी पत्नी निहारिका की बिजनेस डील मामले की सुनवाई शुक्रवार को दिल्ली उच्च न्यायालय में हुई. जिसमें हाईकोर्ट ने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को जल्द से जल्द इस मामले की जांच पूर्ण करने के निर्देश दिये हैं. दरअसल, अधिवक्ता पूनमचंद भंडारी ने हाईकोर्ट में इस मामले में घोटाले को लेकर पिटीशन दाखिल कर आरोप लगाया था कि आईपीएल के पूर्व कमिश्नर ललित मोदी ने दुष्यंत सिंह की कंपनी नियंत हेरिटेज होटल प्राइवेट लिमीटेड के 10 रुपये के कीमत वाले 6,000 शेयरों को करीब 96 हजार रुपये प्रति शेयर खरीदा था. इसके अलावा मोदी की कंपनी ने दुष्यंत सिंह की कंपनी को बिना किसी गारंटी के 11 करोड़ रुपये का लोन दिया था.
राफेल डील से 2 को ही समस्या, एक कांग्रेस और दूसरा पाकिस्तान-प्रकाश जावड़ेकर



4. राहुल जी....रात्रि विश्राम करने से वोट नहीं मिलते - किरोड़ीलाल
चुनाव के मैदान में छिड़ी सत्ता की लड़ाई के बीच सियासी दांव-पेच के साथ ही जुबानी हमलों की भी बौछार हो रही है. एक-एक दिन गुजरने के साथ ही जुबानी हमले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. हाल में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के धौलपुर से महुवा तक किए गए रोड शो पर भाजपा के दिग्गज नेता किरोड़ी लाल मीणा ने पलटवार किया है. उन्होंने कहा कि रात्रि विश्राम करने से कोई वोट नहीं मिल जाते. मीणा ने राहुल की इस रोड शो पर कटाक्ष करते हुए कहा कि कांग्रेस को यह गलतफहमी है कि राजस्थान में कांग्रेस का राज आ रहा है. उन्होंने दावा करते हुए कहा कि पूर्वी राजस्थान की 35- 40 सीटों पर कांग्रेस को आने ही नहीं देंगे. जब कांग्रेस की इन सीटों पर एंट्री ही नहीं होगी तो राज कहां से आएगा. मीणा ने कहा कि रोड शो के बाद महुवा में राहुल ने रात्रि विश्राम किया. इस दौरान उनसे मिलने के लिए कई लोग आए. लेकिन, वे नहीं मिले. वहीं, किरोड़ी ने यह भी कहा कि कांग्रेस के सूत्रों से पक्की खबर है कि राहुल राजस्थान के सीएम के पद के पीसीसी चीफ सचिन पायलट को चेहरा बनाना चाहते हैं. जबकि, कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव अशोक गहलोत को वे दिल्ली राजनीति में रखना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि राहुल का धौलपुर से महुवा तक का रोड शो भी इसीलिए था.

5. राजस्थान के 6 लाख कर्मचारियों के लिए दिवाली बोनस का एलान
राजस्थान में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने सरकारी कर्मचारियों को दिवाली का तोहफा दिया है. चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी से लेकर 48 ग्रेड पे तक वाले कार्मिकों को 6 हजार रूपए से ज्यादा का बोनस मिलेगा. वित्त विभाग ने सीएमओ को जो फाइल भेजी थी उसका मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने अनुमोदन कर दिया है. अब मंजूरी के लिए फाइल निर्वाचन विभाग को भेज दी गई है. निर्वाचन विभाग की अनुमति मिलते ही वित्त विभाग आधिकारिक आदेश जारी कर देगा. 2003 को आधार वर्ष मानते हुए कर्मचारियों को दिवाली का बोनस मिलेगा. बोनस देने से राजकोष पर करीब 450 करोड रुपए का अतिरिक्त भार पड़ेगा.
हाईकोर्ट ने आरसीए के खाते सीज करने के दिए आदेश

6. किरोड़ीलाल मीणा को कांग्रेस के अंदर की पक्की खबर मिली, भुना रही है पार्टी
चुनाव के मैदान में जहां भाजपा-कांग्रेस के बीच सियासी घमासान मचा हुआ है. वहीं, भाजपा के दिग्गज नेता और राज्यसभा सांसद किरोड़ी लाल मीणा के एक बयान से कांग्रेस के भीतर खलबली मच गई है. मीणा ने कहा है कि कांग्रेस के सूत्रों से पता चला है राहुल गांधी ने तय कर लिया है कि प्रदेश में कांग्रेस के सीएम पद के चेहरे पीसीसी चीफ सचिन पायलट बनेंगे. जबकि, कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव अशोक गहलोत को दिल्ली की राजनीति में रखा जाएगा. किरोड़ी लाल ने आगे कहा है कि हाल में धौलपुर से महुवा तक कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का रोड शो भी इसी संकेत को मजबूती दे रहा है. उन्होंने कहा कि जहां सचिन पायलट के पिता राजेश पायलट का प्रभाव था. उसे मजबूत करने के लिए ही राहुल ने इस रोड शो को किया है. किरोड़ी के इस बयान के बाद से कांग्रेस के भीतर सियासी उबाल आ गया है. क्योंकि, इस बार चुनाव से पहले से ही गहलोत और पायलट के बीच में कुर्सी को लेकर खींचतान जारी है. सीएम के पद को लेकर दोनों नेताओं की तरफ से कई बार बयानबाजी भी हो चुकी है. जिसके बाद पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी नाराजगी भी जता चुके हैं. साथ ही उन्होंने दोनों नेताओं को निर्देश दिया है, कि वे एक साथ रहकर प्रचार-प्रसार करें.

7. हनुमान बेनीवाल 29 को पार्टी की घोषणा तो करेंगे लेकिन पार्टी रजिस्टर्ड कैसे होगी....टाइम तो बचा ही नहीं
चुनाव के मैदान में सियासी दंगल जारी है. सत्ता तक पहुंचने के लिए भाजपा-कांग्रेस जोर-आजमाइश कर रही हैं . वहीं, खींवसर विधायक हनुमान बेनीवाल ने भी सियासी दांव चल दिया है. उन्होंने 29 अक्टूबर को जयपुर में महारैली करने के साथ ही इसी दिन नई पार्टी का गठन करने की बात कह दी है. उनके इस बयान के बाद चुनावी पारा चढ़ चुका है. साथ ही कई सवाल भी खड़े होने लगे हैं. सबसे बड़ा सवाल तो यही है कि बेनीवाल पार्टी की घोषणा तो कर देंगे, लेकिन चुनाव से पहले उसे रजिस्टर्ड कैसे कराएंगे ? राज्य में किसान नेता के रूप में पहचान बना चुके बेनीवाल चार रैलियों के जरिए अपनी ताकत का प्रदर्शन बखूबी कर चुके हैं. उनकी योजना है कि जयपुर में भी अपनी पूर्ववर्ती रैलियों की तरह ही भीड़ जुटाकर वे सियासी हवा को अपनी तरफ मोड़ सकें. उन्होंने अपने बयान में दावा किया है कि इस महारैली में 15 लाख लोगों की भीड़ जुटेगी. लाखों लोगों के बीच ही वे अपनी पार्टी का ऐलान भी करेंगे. बातचीत के दौरान उन्होंने यह भी दावा कर दिया है कि इस चुनाव में उनकी प्रस्तावित पार्टी 50 से 60 सीटें जीतेगी. लेकिन, सियासी हलकों में सवाल है कि आखिर महारैली के बाद चुनाव से पहले बचे चंद दिनों में बेनीवाल अपनी पार्टी को रजिस्टर्ड कैसे कराएंगे. क्योंकि, अमूमन एक पार्टी के रजिस्ट्रेशन और चुनाव चिह्न मिलने की प्रक्रिया में करीब 3 से 4 महीने लग जाते हैं. ताजा उदाहरण भारत वाहिनी पार्टी का है.
सवाई माधोपुर: रणथम्भौर नेशनल पार्क के पास युवक पर टाइगर का हमला



8. गोगामेड़ी बोले- हम 4 नवंबर को पत्ते खोलेंगे, उसके साथ जाएंगे जो पार्टी हमें देगी 35 सीटें
प्रदेश में चुनावी रंगत परवान पर है. सियासी दलों के साथ-साथ अब सामाजिक संगठन भी अपनी-अपनी नाराजगी को लेकर सियासी मैदान में दिखने लगे है. आनंदपाल एनकाउंटर और पद्मावत के मुद्दे पर मुखर होने वाली करणी सेना भी अब अपना आखिरी दाव खेलने जा रही है. नागौर ज़िला राजस्थान की राजनीति का केंद्र माना जाता है और यहां से उठने वाली सियासी लहर सूबे की राजनीति को किसी न किसी रूप में प्रभावित भी जरूर करती है. नागौर जिले के डीडवाना में राष्ट्रीय राजपूत करनी सेना ने ने भी वाहन रैली निकाल सियासी हल्के में एक नई हलचल पैदा कर दी है.

9. सचिन पायलट को SC का झटका, याचिका खारिज कर चुनाव आयोग की मतदाता सूची को बताया सही
सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस को बड़ा झटका दिया है. कोर्ट ने मध्यप्रदेश और राजस्थान में वोटर लिस्ट में गड़बड़ी के मामले पर कांग्रेस द्वारा दायर याचिका खारिज कर दिया है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि निर्वाचन आयोग की प्रक्रिया में कोई खामी नहीं है. पिछले 8 अक्टूबर को सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रख लिया था. मध्यप्रदेश के कांग्रेस नेता कमलनाथ और राजस्थान के कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने टेक्स्ट फॉरमेट में वोटर लिस्ट सौंपे जाने की मांग की थी. निर्वाचन आयोग ने याचिका का विरोध करते हुए कहा था कि वोटर लिस्ट पर आपत्तियां आने के बाद खामियों को पहले ही दुरुस्त कर लिया गया है. और याचिका निर्वाचन आयोग को बदनाम करने की साजिश है. सुनवाई के दौरान कांग्रेस की ओर से वकील कपिल सिब्बल ने कहा था कि मध्यप्रदेश के भोजपुर के वोटर लिस्ट में फोटो के दोहराने के आरोप को निर्वाचन आयोग ने स्वीकार किया था. उन्होंने इसकी सीबीआई जांच की मांग की थी.
राजस्थान में कांग्रेस का इस बार जबरदस्त माहौल है : हरीश चौधरी

10. वसुंधरा के टिकट: पाली में रविवार से लगेगा 3 दिन का डेरा
विधानसभा चुनाव को लेकर पाली में राजनीति गलियारों में सरगर्मी तेज हो गई है. प्रदेश की दोनों ही बड़ी पार्टियां कांग्रेस और भाजपा के वरिष्ठ पदाधिकारी हर क्षेत्र में टिकट का चेहरा साफ करने के लिए दौरा करते नजर आ रहे हैं. इन्हीं तैयारियों के बीच रविवार से तीन दिन के लिए मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे पाली के रणकपुर में डेरा डालने वाली हैं. हालांकि, बाहरी तौर पर इसे चुनावी बैठक का नाम दिया गया है. लेकिन, हकीकत में यहां तीन दिनों तक हर विधानसभा क्षेत्र के भाजपा से टिकट दावेदार अपना शक्ति प्रदर्शन करेंगे. साथ ही वसुंधरा सहित आए प्रदेश के प्रतिनिधि पाली की 6 विधानसभा के लिए अपने टिकट की दावेदारी करने वाले हैं. वसुंधरा राजे के पाली आने की सूचना के बाद से भाजपा के सभी कार्यकर्ता पूरी तरह तैयारियों में जुट गए हैं. वैसे तो सभी भाजपा के लिए एक जुट हैं, लेकिन अपने-अपने नेता को टिकट दिलवाने के लिए कार्यकर्ता अलग-अलग गुटों में भी बंटे से नजर आ रहे हैं.

CLOSE COMMENT

ADD COMMENT

To read stories offline: Download Eenaduindia app.

SECTIONS:

  होम

  राज्य

  देश

  दुनिया

  कारोबार

  क्राइम

  खेल

  मनोरंजन

  इंद्रधनुष

  सहेली

  गैलरी

  टूरिज़्म

  ASSEMBLY ELECTIONS 2018

  MAJOR CITIES